अगले साल तक 15 करोड़ से ज्यादा लोग हो जाएंगे और ज्यादा गरीब; विश्व बैंक ने जताई चिंता


  • Hindi News
  • Business
  • By 2021, 150 Million People May Be In Extreme Poverty Due To Covid: World Bank

नई दिल्ली34 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
  • साल 2021 तक कोरोना के कारण कम से कम 15 करोड़ लोग अत्यधिक गरीब की श्रेणी में चले जाएंगे
  • वर्ल्ड बैंक ने कहा है कि कोरोना ने इस साल दुनियाभर के इकॉनामी को बुरी तरह से प्रभावित किया है

दुनियाभर में कोरोना महामारी का कहर तेजी से बढ़ता जा रहा है। अब तक कोई भी वैक्सीन नहीं आ सकी है। दुनियाभर में अर्थव्यवस्थाओं के ऊपर संकट के बादल मंडरा रहे हैं। इस बीच अब विश्व बैंक (World Bank) ने बुधवार को चेतावनी दी है। कोरोना से उत्पन्न हुए हालातों पर चिंता जताई है।

दुनिया की बड़ी आबादी गरीबी की श्रेणी में

विश्व बैंक के मुताबिक, साल 2021 तक कोरोना के कारण कम से कम 15 करोड़ लोग अत्यधिक गरीब की श्रेणी में चले जाएंगे। विश्व बैंक ने बुधवार को चेतावनी दी है कि 2021 तक कोरोना वायरस महामारी के कारण लगभग 15 करोड़ लोगों के अत्यधिक गरीबी की श्रेणी में जाने की संभावना है।

जानिए क्या कहा गया है रिपोर्ट में ?

वाशिंगटन बेस्ड वर्ल्ड बैंक ने कहा है कि कोरोना ने इस साल दुनियाभर के इकॉनामी को बुरी तरह से प्रभावित किया है। आर्थिक वृद्धि की गंभीरता को और चुनौतीपूर्ण बना दिया है। 2021 तक 8.8 करोड़ से 11.5 करोड़ लोग अतिरिक्त गरीबी में धकेले जा सकते हैं, जिसको मिलाकर 2021 तक दुनिया के 15 करोड़ लोगों पर अधिक गरीब होने का खतरा मंडरा रहा है। बता दें कि जान्स हॉपकिंस विश्वविद्यालय के मुताबिक, दुनिया भर में अब तक कोरोना के 3.58 करोड़ मामले सामने चुके है, वही 10 लाख 49 हजार 483 लोगों की कोरोना से मौत हो चुकी है।

अर्थव्यस्था के मोर्चे पर काम करना होगा

विश्व बैंक समूह के अध्यक्ष डेविड मलपास ने कहा है कि महामारी और वैश्विक मंदी दुनिया की आबादी का 1.4 प्रतिशत से अधिक गरीबी में गिरने का कारण हो सकता है। कोविड महामारी के खत्म होने के बाद देश को अर्थव्यवस्था के मोर्चे पर काफी काम करना होगा।



Source link

Be the first to comment

Leave a Reply