अबुधाबी इन्वेस्टमेंट अथॉरिटी रिलायंस रिटेल वेंचर में करेगी 5,512.50 करोड़ रुपए का निवेश, मिलेगी 1.20 प्रतिशत हिस्सेदारी


  • Hindi News
  • Business
  • Abu Dhabi Investment Authority To Invest Rs 5,512.50 Crore In Reliance Retail, To Get 1.20 Percent Stake

मुंबई17 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

रिलायंस रिटेल में सिल्वर लेक ने 7,500 करोड़ और केकेआर ने 5,500 करोड़ रुपए का निवेश किया है। इनके साथ कुल 7 कंपनियों ने निवेश किया है

  • रिलायंस रिटेल में कुल निवेश 37 हजार करोड़ के पार पहुंच गया है
  • कंपनी ने इस निवेश के एवज में करीबन 9 प्रतिशत हिस्सेदारी बेच दी है

अबुधाबी इन्वेस्टमेंट अथॉरिटी (एडीआईए) रिलायंस रिटेल वेंचर में 5,512.50 करोड़ रुपए का निवेश करेगी। इसके एवज में इसे 1.20 प्रतिशत हिस्सेदारी मिलेगी। यह निवेश रिलायंस रिटेल के 4.28 लाख करोड़ रुपए के इक्विटी वैल्यूएशन पर होगा। इस निवेश के साथ ही रिलायंस रिटेल में कुल निवेश 37,710 करोड़ रुपए हो गया है। अब तक करीबन 9 प्रतिशत हिस्सेदारी रिलायंस रिटेल में बिक चुकी है। वैसे यह आठवां निवेश है, लेकिन कंपनियों की संख्या सात है। क्योंकि एक कंपनी ने दो बार निवेश किया है।

जीआईसी और टीपीजी ने पिछले हफ्ते किया था निवेश

पिछले हफ्ते जीआईसी ने 5,512.5 करोड़ और टीपीजी 1,837.5 करोड़ रुपए के निवेश की घोषणा की थी। इसमें जीआईसी को 1.22 और टीपीजी को 0.41 प्रतिशत हिस्सेदारी मिली है। इससे पहले केकेआर एंड कंपनी, जनरल अटलांटिक, अबु धाबी स्टेट फंड मुबाडला और सिल्वर लेक पार्टनर्स निवेश की घोषणा कर चुकी हैं। मुबाडला इनवेस्टमेंट कंपनी ने रिलायंस रिटेल वेंचर में 6,247.5 करोड़ रुपए का निवेश करने की घोषणा की थी। इसके एवज में 1.40 प्रतिशत हिस्सेदारी मुबाडला को मिली है।

जियो में भी किया था निवेश

बता दें कि इससे पहले मुबाडला ने जियो प्लेटफॉर्म में भी 1.2 अरब डॉलर का निवेश किया था। इससे पहले प्राइवेट इक्विटी फर्म जनरल अटलांटिक पार्टनर्स ने रिलायंस रिटेल में 3,675 करोड़ रुपए का निवेश करने का फैसला किया था। इसके एवज में उसे 0.84 प्रतिशत हिस्सेदारी मिली है। इसी कंपनी ने दोबारा 1,700 करोड़ रुपए का निवेश किया था। अटलांटिक ने जियो प्लेटफॉर्म में 6,598 करोड़ रुपए का निवेश किया था।

ज्यादा हिस्सा खरीदने पर कम वैल्यूएशन पर होगी डील

रिलायंस रिटेल में भी मुकेश अंबानी वही आइडिया अपना रहे हैं जो उन्होंने जियो में हिस्सेदारी के समय अपनाया था। रिलायंस रिटेल में जो पहले के दो निवेश थे, उनको 4.21 लाख करोड़ रुपए के वैल्यूएशन पर हिस्सेदारी मिली थी। जबकि जनरल अटलांटिक को 4.28 लाख करोड़ रुपए के वैल्यूएशन पर हिस्सेदारी मिली है। यानी जो कंपनियां ज्यादा निवेश करेंगी उनके लिए कम वैल्यूएशन लगाया जाएगा।

सिल्वरलेक और केकेआर ने एक प्रतिशत से ज्यादा हिस्सेदारी खरीदी, जबकि जनरल अटलांटिक ने इससे कम शेयर खरीदे। सिल्वर लेक ने 1.75% और केकेआर ने 1.28% हिस्सेदारी खरीदी है।

अभी भी निवेश की उम्मीद बनी है

कंपनी में अभी भी निवेश की उम्मीद बनी है। रिलायंस रिटेल में कुल निवेश 37 हजार करोड़ के पार पहुंच गया है। रिलायंस रिटेल में सिल्वर लेक ने 7,500 करोड़ और केकेआर ने 5,500 करोड़ रुपए का निवेश किया है। यह दोनों वही कंपनियां हैं, जिन्होंने रिलायंस जियो में निवेश किया था। रिलायंस जियो में इन कंपनियों ने 4.91 लाख करोड़ रुपए के वैल्यूएशन पर निवेश किया था।

जियो में 1.52 लाख करोड़ रुपए का निवेश

रिलायंस जियो में कुल 1.52 लाख करोड़ रुपए का निवेश आया है। जबकि रिटेल से भी मुकेश अंबानी इतना ही निवेश जुटाना चाहते हैं। रिलायंस ग्रुप पर 1.60 लाख करोड़ रुपए का कर्ज था और जियो के पैसे से कंपनी नेट डेट फ्री हो गई है। ऐसे में रिटेल में आने वाले निवेश से मुकेश अंबानी आगे के विस्तार पर पैसे लगाएंगे। इसलिए आनेवाले समय में करीबन 10 कंपनियां रिलायंस रिटेल में हिस्सा खरीद सकती हैं।



Source link

Be the first to comment

Leave a Reply