इमरान खान ने कहा- मैं तो बर्थडे केट काट रहा था, मुझे नहीं मालूम केस किसने दर्ज कराया; कैबिनेट में भी इस पर राय बंटी


  • Hindi News
  • International
  • Imran Khan Nawaz Sharif | Pakistan PM Imran Khan Statement On Nawaz Sharif Sedition Case; Latest News And Updates

इस्लामाबाद20 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

मंगलवार को इस्लामाबाद में कैबिनेट मीटिंग के दौरान पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान। इमरान ने इस बात से इनकार किया है कि उनके इशारे पर नवाज शरीफ के खिलाफ देशद्रोह का केस दर्ज किया गया है।

  • लाहौर के एक व्यक्ति ने पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के खिलाफ देशद्रोह का मामला दर्ज कराया है
  • मीडिया रिपोर्ट्स में इस व्यक्ति को इमरान की पार्टी से जुड़ा बताया गया है, सरकार इससे इनकार कर रही है

पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ और कुछ विपक्षी नेताओं पर देशद्रोह का मामला पाकिस्तान में तूल पकड़ता जा रहा है। नवाज की पार्टी पाकिस्तान मुस्लिम लीग (पीएमएल-एन) का आरोप है कि नवाज पर केस इमरान की पार्टी पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) ने दर्ज कराया है। वहीं, खुद प्रधानमंत्री इमरान खान इससे इनकार कर रहे हैं। इमरान के मुताबिक, उन्हें नवाज पर केस दर्ज होने की जानकारी उस वक्त मिली जब वे अपना बर्थडे केक काट रहे थे।

पीटीआई ने पल्ला झाड़ा
नवाज पर देशद्रोह के मामला दर्ज होने के बाद पाकिस्तान की सियासत में उबाल आ गया है। सरकार के कुछ मंत्री भी इससे खफा हैं। लगभग हर तबके में इस हरकत का विरोध होने के बाद अब इमरान सरकार मामले से पल्ला झाड़ने की कोशिश कर रही है। पीटीआई का कहना है- नवाज के खिलाफ केस एक व्यक्ति ने दर्ज कराया है। हमारा उससे कोई लेनादेना नहीं है। लाहौर जहां यह केस रजिस्टर हुआ वहां की पुलिस भी कह रही है कि केस एक व्यक्ति की तरफ से दर्ज कराया गया है।

इमरान ने क्या कहा
मंगलवार को प्रधानमंत्री इमरान खान की अगुआई में पाकिस्तान सरकार की कैबिनेट मीटिंग हुई। ‘द ट्रिब्यून’ के मुताबिक, इस मीटिंग में इमरान ने कहा- लोग कह रहे हैं कि नवाज के खिलाफ एफआईआर मेरे कहने पर दर्ज हुई। लेकिन, मुझे तो एफआईआर की जानकारी तब मिली, जब मैं अपना बर्थडे केक काट रहा था। इमरान ने यह बात मंत्रियों से कही।

सरकार की मुश्किलें बढ़ीं
पाकिस्तान में पूरा विपक्ष सरकार के खिलाफ एकजुट हो चुका है। इसके लिए पाकिस्तान डेमोक्रेटिक मूवमेंट (पीडीएम) नाम का नया संगठन बनाया गया है। मौलाना फजल-उर-रहमान को इसका नेता बनाया गया है। इस संगठन के बनने के बाद से ही विपक्षी नेताओं के खिलाफ अलग-अलग मामलों में कई केस दर्ज कराए गए हैं। इसी कड़ी में नवाज शरीफ के खिलाफ देशद्रोह का केस दर्ज हुआ और अब यह सरकार के गले की हड्डी बन गया है। इमरान के कुछ मंत्री भी इस हरकत का सख्त विरोध बता रहे हैं। इमरान खुद कह रहे हैं कि वे सियासी तौर पर बदले की भावना नहीं रखते।

इन नेताओं के खिलाफ एफआईआर
पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) के प्रधानमंत्री राजा, मरियम नवाज शरीफ, अयाज सादिक, पूर्व पीएम शाहिद खकान अब्बासी, परवेज राशिद, ख्वाजा आसिफ, राणा सनाउल्लाह और इकबाल जफर। बताया जाता है कि नवाज के खिलाफ देशद्रोह का मामला बदर राशिद नाम के व्यक्ति ने दर्ज कराई। वो इमरान की पार्टी से जुड़ा बताया गया है। इमरान के मंत्री शिबली फराज ने कहा- एफआईआर कोई भी दर्ज करा सकता है। आप मेरे खिलाफ यही कर सकते हैं।



Source link

Be the first to comment

Leave a Reply