कमलनाथ बोले- मैं शुरू से कह रहा था कि मेरी बहुमत की सरकार को साजिश-षड्यंत्र और विधायकों को प्रलोभन देकर गिराया है


  • बोले- मेरी सरकार इसलिए गिराई, क्योंकि मैंने किसानों का कर्ज माफ किया, युवाओं को रोजगार दिया
  • सिंधिया समर्थक विधायकों के 20 मार्च को इस्तीफा देने के बाद मध्य प्रदेश की कमलनाथ सरकार गिर गई थी

दैनिक भास्कर

Jun 10, 2020, 04:11 PM IST

भोपाल. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह के ऑडियो पर पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने तीखी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने कहा कि मैं तो शुरुआत से ही कह रहा था कि भाजपा ने मेरी बहुमत की सरकार को साजिश और विधायकों को प्रलोभन देकर गिराया है। कमलनाथ ने चार ट्वीट किए। इसके साथ मध्य प्रदेश में एक बार फिर से सियासत गर्मा गई है।

सोमवार को इंदौर दौरे पर गए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह का रेजीडेंसी में सांवेर के कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए एक ऑडियो वायरल हो रहा है, इसमें वे कह रहे हैं कि मध्य प्रदेश की कांग्रेस सरकार गिरनी चाहिए, ये भाजपा के केंद्रीय नेतृत्व ने तय किया था। प्रदेश कांग्रेस ने इस पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि ‘मोदीजी आपने लोकतंत्र की हत्या की है या आपके सीएम आदतन लफ्फाजी कर रहे हैं।’

उनके झूठ की पोल अब खुल गई है 

कमलनाथ ने कहा कि अब तो इस बात की पुष्टि भी हो गई और सच्चाई भी प्रदेश की जनता के सामने आ गई कि मेरी सरकार को गिराने के लिए किस तरह की साजिश और खेल रचा गया और उसमें कौन- कौन शामिल था। जो लोग कहते थे कि कांग्रेस की सरकार के पास बहुमत नहीं था, वह अपने असंतोष से गिरी, हमने नहीं गिराई, उनके इस झूठ की पोल भी अब सभी के सामने आ चुकी है। शिवराज ने 15 वर्ष झूठ के बल पर सरकार चलाई। जनता ने सबक भी सिखाया लेकिन अभी भी निरंतर झूठ परोस रहे हैं।

पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ का ट्वीट…

20 मार्च को गिर गई थी कमलनाथ सरकार
मध्य प्रदेश में कमलनाथ सरकार के 22 विधायकों ने 10 मार्च को इस्तीफा दे दिया था। ज्योतिरादित्य सिंधिया कांग्रेस छोड़कर भाजपा में शामिल हो गए थे। इस्तीफा देने वाले 22 विधायक भी भाजपा में शामिल हो गए थे। 20 मार्च को कमलनाथ सरकार गिर गई। भाजपा का कहना था कि कांग्रेस की सरकार अंदरूनी कलह की वजह से गिरी।





Source link

Be the first to comment

Leave a Reply