कश्मीरियों को घर बैठे 24×7 डॉक्टर की सुविधा मिली: विदेश में रह रहे 300 कश्मीरी डॉक्टर टेली मेडिसिन के जरिए 20 हजार लोगों का इलाज कर चुके; इनका 24 घंटे का रोस्टर बना है


  • Hindi News
  • National
  • 300 Kashmiri Doctors Living Abroad Have Treated 20 Thousand People Through Tele medicine; They Have A 24 hour Roster

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

श्रीनगर7 मिनट पहलेलेखक: मुदस्सिर कुल्लू

  • कॉपी लिंक

वेलनेस सेंटर में ऑक्सीजन सिलेंडर, इंटरनेट सुविधा, एलसीडी प्रोजेक्टर के अलावा मरीजों के मनोरंजन के लिए इनडोर खेल सुविधाएं होंगी।

देश के दूरदराज इलाकों में रह रहे लोग इलाज पाने के लिए संघर्ष कर रहे हैं। ऐसे में विदेश में रह रहे 300 कश्मीरी डॉक्टरों की टीम ने एक मॉडल पेश किया है। सऊदी अरब, दुबई, अमेरिका, ब्रिटेन में कार्यरत ये डॉक्टर जुलाई से अब तक 20 हजार मरीजों को निशुल्क परामर्श दे चुके हैंं। इन दिनों कोविड की दूसरी लहर में रोज 500 लोग लाभ उठा रहे हैं। ये डॉक्टर एहसास इंटरनेशनल एनजीओ के साथ जुड़कर कश्मीर हेल्थकेयर सपोर्ट ग्रुप नाम से दिन-रात लोगों की मदद कर रहे हैं।

इनमें हृदय रोग विशेषज्ञ, हड्डी रोग विशेषज्ञ से लेकर हर तरह के इलाज के विशेषज्ञ डॉक्टर मौजूद हैं। खाड़ी में सेवा दे रहे वरिष्ठ कार्डिएक एनेस्थेसियोलॉजिस्ट डॉ. अल्ताफ कहते हैं कि शुरू में कुछ डॉक्टर ही जुड़े थे। फिर खाड़ी,अमेरिका, ब्रिटेन, कनाडा, ऑस्ट्रेलिया, न्यूजीलैंड में सेवा दे रहे डॉक्टर जुड़ते चले गए। वे कहते हैं कि महामारी के दौरान अस्पतालों में मरीजों का जाना संभव नहीं है। ऐसे में हम चिकित्सा सलाह देते हैं, रोगियों में जागरूकता पैदा करते हैं और ई-पर्चे पर प्रिस्क्रिप्शन देते हैं।

गंभीर मरीजों को तुरंत मदद मिले, इसके लिए भी सिस्टम बनाया है। हम हर मरीज का रिकॉर्ड रखते हैं, ताकि अगली बार भी उसी डॉक्टर से रोगी को परामर्श मिले, जिसने उसे पहले देखा था। ज्यादातर मामले कोविड, किडनी, डायबिटीज, ब्लड प्रेशर संबंधित आते हैं।

इस सुविधा से लाभ उठाने वाली 27 साल की फराह कहती हैं कि अप्रैल के पहले हफ्ते में खांसी-बुखार आया। फिर कोविड टेस्ट कराया तो पॉजिटिव आया। बूढ़े माता-पिता के लिए मुझे अस्पताल ले जाना संभव नहीं था। मैंने एहसास इंटरनेशनल के टोल फ्री नंबर पर कॉल किया जहां सऊदी के डॉक्टर से मुझे जोड़ा गया।

डॉक्टरों ने मुझे दो हफ्ते ऑनलाइन सलाह दी, दवाएं दी। मेरा मनोबल बढ़ाया। 10 दिनों के बाद, मैं ठीक हो गई और मेरा टेस्ट भी निगेटिव आया। एहसास इंटरनेशनल के प्रतिनिधि हकीम मो. इलियास बताते हैं कि उन्होंने डॉक्टरों के रोस्टर बनाए हैं जो 24 घंटे उपलब्ध रहते हैं।

वेलनेस सेंटर में इंटरटेनमेंट व स्पोर्ट्स की भी सुविधा
इस संस्था ने श्रीनगर नगर निगम के सहयोग से कोविड-19 रोगियों के लिए 50-50 बेड वाले तीन वेलनेस सेंटर बनाए हैं। इसमें ऑक्सीजन सिलेंडर, इंटरनेट सुविधा, एलसीडी प्रोजेक्टर के अलावा मरीजों के मनोरंजन के लिए इनडोर खेल सुविधाएं होंगी। यहां हज हाउस को भी कोविड सेंटर में बदला गया है।

खबरें और भी हैं…



Source link

Be the first to comment

Leave a Reply