केरल में 110 साल की बुजुर्ग महिला ने दी कोरोना को मात, राज्य में 2397 नए केस और 6 मरीजों की मौत


उत्तर केरल के एक मेडिकल कॉलेज से 110 साल की बुजुर्ग महिला कोरोना वायरस संक्रमण से मुक्त हो गई है। वह देश में संक्रमण से मुक्त होने वाली सबसे उम्रदराज मरीजों में से एक हैं। राज्य की स्वास्थ्य मंत्री के के शैलजा ने बताया कि मलप्पुरम जिले की रंदाथानी वरियाथ पाथु नामक महिला राज्य में सबसे अधिक उम्र की मरीज हैं जो कोरोना वायरस संक्रमण से उबरी हैं।

डॉक्टरों ने बताया कि 18 अगस्त को अस्पताल में भर्ती कराई गई इस वृद्धा पर उपचार का असर नजर आया क्योंकि उनके मन में तनाव नहीं था। उन्होंने कहा, ”पाथु को उनकी बेटी से संक्रमण हुआ था। उन्हें बस मामूली लक्षण थे।” स्वास्थ्य मंत्री ने इन वृद्ध महिला को उत्तम इलाज करने के लिए मेडिकल कॉलेज अस्पताल के डॉक्टरों और कर्मियों को बधाई दी है। उन्होंने कहा कि यह कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई रहे राज्य के स्वास्थ्य क्षेत्र के लिए गर्व का पल है। इससे पहले 105 साल की एक अन्य वृद्धा और 103 साल के बुजुर्ग भी कोरोना वायरस संक्रमण से मुक्त हुए थे।

केरल में कोरोना वायरस के 2397 नए मामले
दूसरी ओर, केरल में शनिवार को कोविड-19 के 2397 नए मामले सामने आने से राज्य में संक्रमण के कुल मामले 71,700 पहुंच गए, वहीं संक्रमण से छह और लोगों की मौत के बाद मृतक संख्या 280 पहुंच गई। मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ने यह जानकारी दी। राज्य में शनिवार को सर्वाधिक 2,225 लोग इलाज के बाद स्वस्थ हो गए और उन्हें अस्पतालों से छुट्टी दे दी गई।

राज्य में अब तक कुल 48,083 लोग कोरोना वायरस संक्रमण से मुक्त हुए हैं। राज्य में फिलहाल 23,277 लोगों का इलाज चल रहा है। जो नए मामले सामने आए हैं उनमें से 68 लोग विदेश से लौटे हैं तथा 126 लोग दूसरे राज्यों से यहां आए हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि नए मरीजों में 63 स्वास्थ्यकर्मी भी शामिल हैं। राज्य में फिलहाल संक्रमण से प्रभावित 589 निषिद्ध क्षेत्र हैं।





Source link

Be the first to comment

Leave a Reply