कोरोना के मामले में महाराष्ट्र के बाद दूसरे नंबर पर आया आंध्र प्रदेश, लगातार 5वें दिन 10000 से अधिक मरीज


आंध्र प्रदेश में लगातार पांचवें दिन रविवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 10,000 से अधिक मामले सामने आए। इसके साथ ही संक्रमण के कुल मामलों की संख्या बढ़कर 4.24 लाख हो गई। महाराष्ट्र के बाद अब आंध्र प्रदेश में संक्रमण के सर्वाधिक मामले सामने आए हैं। रविवार को सुबह नौ बजे तक पिछले चौबीस घंटे में राज्य में 10,603 मामले सामने आए जिसके बाद संक्रमण के कुल मामलों की संख्या 4,24,767 पर पहुंच गई। 

राज्य सरकार की ओर से जारी ताजा बुलेटिन के अनुसार, पिछले 24 घंटे में आंध्र प्रदेश में कोविड-19 के 9,067 मरीज ठीक हो गए और 88 और मरीजों की मौत हो गई। बुलेटिन के अनुसार, अब तक राज्य में कोविड-19 के कुल 3,884 मरीज दम तोड़ चुके हैं और 3,21,754 मरीज ठीक हो चुके हैं। फिलहाल सक्रिय मरीजों की संख्या 99,129 है, जिनका विभिन्न अस्पतालों में इलाज चल रहा है।

दूसरी ओर, भारत में कोविड-19 संक्रमण से उबरने वालों की संख्या 27 लाख के पार चली गई और स्वस्थ होने की दर 76.61 प्रतिशत हो गई है, जबकि इस महामारी से मृत्युदर और घटकर 1.79 फीसदी रह गई है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने रविवार को यह जानकारी दी। इससे यह भी सामने आया कि उपचाराधीन मरीज की संख्या कुल संक्रमितों का महज 21.60 फीसदी है। मंत्रालय का कहना है कि लगातार अधिकाधिक मरीजों के इस संक्रमण से उबरने, अस्पतालों से छुट्टी मिलने एवं एवं पृथक वास से बाहर आने के साथ ही देश में अबतक 27,13,933 मरीज ठीक हो चुके हैं। उसके अनुसार देश में आक्रामक तरीके से जांच करने, संक्रमितों के संपर्क में आने वालों का निगरानी के जरिये समय पर पता लगाने और चिकित्सा देखभाल बुनियादी ढांचों में विस्तार के जरिए प्रभावी तरीके से उपचार करने की की केंद्र की नीति के क्रियान्वयन से ऐसा संभव हो सका है।

मंत्रालय के मुताबिक पिछले 24 घंटे में 64,935 मरीजों के ठीक होने के साथ ही भारत में कोविड-19 मरीजों के स्वस्थ होने की दर सुधरकर 76.61 हो गई है और उसमें लगातार प्रगति दिख रही है। देश में स्वस्थ होने की दर पांच अप्रैल को महज 7.69 फीसद थी जो तीन मई को बढ़कर 26.59 प्रतिशत हो गई और 31 मई को 47.76 प्रतिशत पर पहुंच गई। पांच जुलाई को स्वस्थ होने की दर 60.77 प्रतिशत दर्ज की गई थी। मंत्रालय का कहना है कि स्वस्थ होने वाले मरीजों की संख्या पिछले महीनों में लगातार बढ़ती जा रही है और अब यह उपचाराधीन मरीजों से 3.55 गुणा अधिक है। भारत में स्वस्थ हुए मरीजों की संख्या उपचाराधीन 7,65,302 मरीजों से 19,48,631 लाख अधिक है। मंत्रालय ने कहा कि बड़ी संख्या में संक्रमण से लोगों के उबरने से यह सुनिश्चित हुआ कि अब उपचाराधीन 7,65,302 मरीज कुल संक्रमितों का महज 21.60 फीसदी है।





Source link

Be the first to comment

Leave a Reply