गृह मंत्री अमित शाह के आरोपों पर सीएम ममता बनर्जी का पलटवार, कहा- मैंने श्रमिक स्पेशल ट्रेनों को कभी कोरोना एक्सप्रेस नहीं बताया


  • गृह मंत्री अमित शाह ने दो दिन पहले वर्चुअल रैली में ममता पर आरोप लगाया था कि उन्होंने श्रमिक स्पेशल ट्रेनों को कोरोना एक्सप्रेस बताया था
  • पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा- मैंने वहीं कहा जैसा लोग कह रहे हैं, आप मेरा मूल बयान देख सकते हैं

दैनिक भास्कर

Jun 10, 2020, 08:48 PM IST

कोलकाता. पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने गृह मंत्री अमित शाह के आरोपों पर पलटवार किया है। शाह ने दो दिन पहले वर्चुअल रैली में ममता पर आरोप लगाया था कि उन्होंने श्रमिक स्पेशल ट्रेनों को कोरोना एक्सप्रेस बताया था। इस पर ममता ने कहा कि उन्होंने कभी इन ट्रेनों को कोरोना एक्सप्रेस नहीं कहा। मैंने वहीं कहा जो लोग कह रहे हैं। आप मेरा मूल बयान देख सकते हैं।

ममता ने कहा कि अगर लॉकडाउन लगाने से पहले केंद्र ने श्रमिक ट्रेनें चलवाईं होती तो लोगों को इतनी मुश्किलें नहीं होती। 11 लाख से ज्यादा मजदूर इन ट्रेनों से पश्चिम बंगाल लौटे हैं। इन लोगों ने ही श्रमिक ट्रेनों को कोरोना एक्सप्रेस नाम दिया है।

ममता पर केंद्र का समर्थन न करने का आरोप

तीन महीने से केंद्र और बंगाल सरकार के बीच ट्रेनों को लेकर टकराव चल रहा है। केंद्र का कहना है कि श्रमिक ट्रेनें चलाने के लिए ममता सरकार का पर्याप्त समर्थन नहीं मिला। बंगाल भाजपा ने कहा कि जब जरूरी था, तब राज्य सरकार ने श्रमिक ट्रेनें चलाने की अनुमति नहीं दी। इसके तुरंत बाद केंद्र ने उस नियम को रद्द कर दिया था, जिसमें राज्यों की अनुमति लेना अनिवार्य था।

दबाव के बाद केंद्र ने श्रमिक ट्रेन चलाने का फैसला किया

सीएम बनर्जी और अन्य विपक्षी दलों ने तर्क दिया कि केंद्र ने लाखों फंसे श्रमिकों को घर पहुंचाने में कोई दिलचस्पी नहीं दिखाई। राज्यों से दबाव बढ़ने के बाद उन्होंने श्रमिक ट्रेनें चलाने का फैसला किया। विपक्षियों ने यह भी आरोप लगाया कि केंद्र ने सोशल डिस्टेंसिंग जैसे उपायों पर ध्यान नहीं दिया। इसके चलते संक्रमण और फैल गया।

आवाजाही बढ़ने के बाद केस भी बढ़े

ममता ने बुधवार को फेसबुक लाइव में कहा- शुरू में श्रमिक ट्रेनों को राज्य में रोके जाने के उनके फैसले को गलत समझा गया। उन्होंने ऐसा इसलिए किया, क्योंकि लोग छोटे सी जगह में बंद न हो। इससे संक्रमण बढ़ने का खतरा बढ़ जाता। वहीं, आवाजाही बढ़ने के बाद देश में मामले भी बढ़े हैं।



Source link

Be the first to comment

Leave a Reply