घर में घुसकर मां पर तानी बंदूक, तो 5 साल का बच्चा भिड़ गया हमलावरों से, बरसाए मुक्के और फिर – देखें Video


घर में घुसकर मां पर तानी बंदूक तो 5 साल का बच्चा भिड़ गया हमलावरों से, बरसाए मुक्का और फिर – देखें Video

पांच साल के अमेरिकी लड़के (5 Year Old Boy) को सशस्त्र घरेलू आक्रमणकारियों से अपने परिवार की रक्षा के लिए कार्रवाई (Boy Fights Robbers) में कूदने के लिए नायक बनाया गया है. इंडियाना (Indiana) में साउथ बेंड पुलिस (South Bend Police) द्वारा घर पर आक्रमण की फुटेज जारी की गई थी. डेली मेल की रिपोर्ट के अनुसार, डेविड जॉनसन (David Johnson), पांच साल की उम्र में, अपनी मां और बहन की रक्षा के लिए हमलावरों से भिड़ गया. उनमें से, कुछ लोगों के पास बंदूक भी थी. सोशल मीडिया (Social Media) पर यह वीडियो तेजी से वायरल (Viral Video) हो रहा है.

यह भी पढ़ें

साउथ बेंड पुलिस के अनुसार, 30 सितंबर को, चार लोगों ने शहर के एक घर में जबरदस्ती घुस गए. सोशल मीडिया पर साझा की गई फुटेज में एक महिला को दिखाया गया है, जो डेविड की मां तमिका रीड हैं. जब हथियारबंद लोग उसके घर में घुसे, उस वक्त वो कपड़ों को प्रेस कर रही थीं. पुलिस ने कहा कि बंदूकधारियों ने दरवाजा खटखटाया और एक किशोर ने दरवाजे पर धक्का दिया और बाकी हमलावर अंदर घुस गए. 

सभी हमलावर हूडी पहने हुए थे और हथियार हवा में लहरा रहे थे. यह देखकर, डेविड हरकत में आ गया और उसने पुरुषों में से एक पर हमला करना शुरू कर दिया. अपने परिवार की रक्षा के लिए उसने खिलौने को हमलावर पर फेंक दिया. साउथ बेंड पुलिस ने फुटेज शेयर करते हुए लिखा, ‘आप देख सकते हैं कि बच्चा कैसे हमलावर से भिड़ गया. वो अपने परिवार और घर की रक्षा करने के लिए ऐसा कर रहा था.’

न्यूयॉर्क पोस्ट के अनुसार, बहादुर बच्चे ने कहा, ‘मैंने अपनी कार उस पर फेंकने की कोशिश की.’ सौभाग्य से, पुरुषों ने कुछ भी लेने या किसी को चोट पहुंचाने के बिना घर को छोड़ दिया. लेकिन उन्होंने फायरिंग की थी. 

देखें Video:

डेविड के साहस के लिए उनकी खूब तारीफ की जा रही है. हजारों लोगों ने उनकी तारीफ की. एक यूजर ने लिखा, ‘बच्चे ने क्या शानदार बहादुरी दिखाई. मेरी तरफ से कोई इसे मेडल दे दो. उसने अपनों को बचाने के लिए पूरी ताकत लगा दी.’

पुलिस अधिकारियों ने भी लड़के की प्रशंसा की. उन्होंने कहा, “बहुत से लोग कह रहे हैं कि यह छोटा लड़का बहुत बहादुर है और वह गोल्ड मेडल का हकदार है, और यह सच है, वह इस स्थिति में बेहद बहादुर था.” 



Source link

Be the first to comment

Leave a Reply