चिंताजनक ! वन विभाग में 8वीं पास भर्ती के लिए इंजीनियरिंग और मास्टर डिग्रीधारकों ने किया आवेदन


पश्चिम बंगाल में वन विभाग ने 8वीं पास के लिए 2000 वन सहायकों की भर्ती शुरू की है जिसके लिए कई रिसर्च स्कॉलर, मास्टर डिग्री और इंजीनियरिंग की डिग्री रखने वालों ने आवेदन किया है। यह जानकारी वन विभाग के एक सीनियर अधिकारी ने पीटीआई को दी है। 

पश्चिम बंगाल सरकार वन सहायकों (forest assistants) के 2000 पदों पर भर्ती कर रही है। यह भर्ती कंट्रैक्स बेस यानी अस्थाई होगी, जोकि इंसान और जंगली जीवों के बीच चल रहे संघर्ष को कम करने के लिए है।

नौकरी अस्थाई होने बावजूद भी कई हाई-फाई डिग्री रखनेवाले उम्मीदवार आवेदन कर रहे हैं। मालदा वन विभाग के रेंजर सुबीर कुमार गुहा ने बताया कि पीएचडी स्कॉलर और मास्टर डिग्रीधारी आवेदकों का कहना है कि उनके पास कोई काम नहीं है।

इतिहास से एमए किए आवेदन सुधीर मोइत्रा ने कहा, वह कोरोना महामारी के मौजूदा हालात को देखते हुए सरकारी नौकरी को महत्व देते हैं चाहे भले ही यह अस्थाई हो और इसके लिए योग्यता भी कम लगती हो।

उन्होंने कहा, ‘जॉब को लेकर हालात चिंताजनक हैं। लेकिन कोरोना महामारी के कारण कई अन्य लोंगों की भी नौकरी छीन ली है। कई कंपनियां बंद हो चुकी हैं और प्रावेट सेक्टर में भर्तियां भी न के बराबर हो रही हैँ। मैं किसी भी प्रकार की सरकारी नौकरी करना चाहता हूं। भले यह कंट्रैक्ट बेस पर हो।’

वहीं इकोनॉमिक्स से एमएससी किए रक्तिम चंद ने कहा, ‘मौजूदा हालात में कुछ हजार रुपए वाली नौकरी कुछ न करने से बेहतर है।’ वन सहायक की भर्ती के लिए आवेदन करने वाले अभ्यर्थियों द्वारा बंगाली भाषा पढ़ने व लिखने में 30-30 अंक हासिल किए गए हैं।

इसके अलावा अंग्रेजी या हिन्दी पढ़ने लेने वालों को 10 अंक, सामान्य ज्ञान के लिए 20 और व्यक्तित्व परीक्षण के लिए 10 अकं की परीक्षा की जा रही है।

एक सीनियर अधिकारी ने कहा कि कम योग्यता वाली जॉब के लिए हाई-फाई डिग्री वाले आवेदन कर रहे हैं, लेकिन हम उन्हें रोक नहीं सकते।



Source link

Be the first to comment

Leave a Reply