त्योहारों से पहले महंगी होने लगी हैं दालें, सब्जियां और सरसों का तेल, जानें क्या है वजह


 

कोरोना संकट के बीच जरूरी सामानों की बढ़ती कीमत से त्योहारों का मजा फीका हो सकता है। हाल के दिनों में सब्जियां, दालें, खाद्य तेल आदि की कीमतें एकदम से बढ़ गई है। कारोबारियों का कहना है कि आने वाले दिनों में दुर्गापूजा को लेकर फलों की कीमत में भी बड़ा उछाल आने की आशंका है। 

कारोबारियों के अनुसार, अभी सब्जियों,  खाद्य तेल और दालों की कीमतें कम होने की फिलहाल कोई उम्मीद नहीं है। इसकी वजह अनलॉक-5 लागू होने के बाद एकदम से मांग और आपूर्ति के बीच बड़ा अंतर आना है। त्योहारी सीजन में मांग और बढ़ने से कीमत में और तेजी आने की पूरी संभावना है। 

राजधानी दिल्ली में प्रमुख वस्तुओं की कीमत में वृद्धि 
 
वस्तु               2 मार्च, 2020 को कीमत      13 अक्तूबर, 2020 को कीमत      

अरहर दाल                 93                               111
सरसों का तेल             124                              142
सोया तेल                    117                             122
सनफ्लावर                  123                             141
पॉम ऑयल                  102                            106
आलू                           23                               37
प्याज                           38                              43
टमाटर                         26                              45

आंकड़े- रुपये में, स्रोत- भारत सरकार उपभोक्ता विभाग 

त्योहारों से पहले महंगा होने लगा सरसों का तेल, जानें क्या है वजह

अरहर दाल 100 रुपये के पार 
हरी सब्जियों, आलू, प्याज, टमाटर, सरसों तेल के साथ दाल लगातार बढ़ रही कीमतों ने रसोई का बजट बिगाड़ दिया है। थोक बाजार में अरहल दाल की कीमत 115 रुपये किलो के पार पहुंच चुकी हैं। दिल्ली समेत कई बड़े शहरों में दालों की कीमतों में 15 से 20 रुपये तक बढ़ोतरी हुई है। पिछले महीने से अरहर की दाल में 20 फीसदी का उछाल आया है। अरहर के अलावा मूंग और उड़द दाल भी 10 फीसदी तक महंगी हो चुकी है।

अभी और बढ़ेंगे दाम
आजादपुर मंडी पोटेटो-अनियन मर्चेंट एसोसिएशन (पोमा) के जनरल सेक्रेटरी राजेंद्र शर्मा ने हिन्दुस्तान को बताया कि अभी मंडी में प्याज 25 रुपये से 40 रुपये, आलू 28 रुपये से 40 रुपये और टमाटर 35 रुपये से 40 रुपये के बीच उपलब्ध है। उन्होंने बताया कि हाल के दिनों में आलू, प्याज और टमाटर कीमत तेजी से बढ़ी और यह तेजी त्योहारी सीजन तक जारी रह सकती है। हालाकि, यहां से बहुत बड़ा उछाल आने की उम्मीद नहीं है क्योंकि अनलॉक-5 के साथ मंडियों में आपूर्ति बढ़ रही है। इससे कीमत पर लगाम लगाने में मदद मिलेगी। 

थोक और खुदरा रेट में दोगुने का अंतर
मंडी से खुदरा बाजार में आते-आते इनके दाम में दोगुना तक अंतर देखने को मिल रहा है। खुदरा में आलू अभी 40 से 50 रुपये प्रति किलो चल रहा है। वहीं, खास क्वालिटी के आलू का खुदरा भाव 60 रुपये तक भी है। प्याज की कीमत इस समय खुदरा में 60 रुपये किलो है। वहीं, टमाटर की बात की जाय तो 80 रुपए तक मिलने वाला टमाटर इस वक्त 50 से 60 रुपये मे मिल रहा है।

EPFO: ईपीएफओ ने शुरू की व्हाट्सऐप हेल्पलाइन सेवा, जानिए क्या है नंबर- जहां कर सकते हैं शिकायत



Source link

Be the first to comment

Leave a Reply