थर्मल स्क्रीनिंग, मास्क, टोकन नहीं सिर्फ स्मार्ट कार्ड… दिल्ली के परिवहन मंत्री ने बताया कैसे होगा 7 सितंबर से मेट्रो का सफर


कोविड-19 महामारी के मद्देनजर गत 22 मार्च से बंद दिल्ली मेट्रो के परिचालन को सात सितम्बर से ‘क्रमबद्ध’ तरीके से बहाल करने की मंजूरी मिल गई है। वहीं दिल्ली के परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत ने बताया कि मेट्रो स्टेशन में थर्मल स्क्रीनिंग के बाद ही अंदर आने देंगे, मास्क कंप्लसरी रहेगा, टोकन बंद रहेगा और स्मार्ट कार्ड द्वारा ही लोग सफर करेंगे। कंटेनमेंट ज़ोन्स के स्टेशन बंद रहेंगे और कुछ और स्टेशन भी बंद रहेंगे जिसकी लिस्ट जनता को दे दी जाएगी। 

उन्होंने बताया कि  अभी हम सारे प्रोटोकॉल्स को दोबारा देख रहे हैं। कल और परसों तक डीएमआरसी व ट्रांसपोर्ट अधिकारियों के साथ हमारी डिटेल में मीटिंग होगी। वहीं अनलॉक चार में मेट्रो चलने की अनुमति मिलने के बाद मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट किया कि वह दिल्ली मेट्रो का संचालन सात सितंबर से चरणबद्ध रूप से शुरू किये जाने की अनुमति मिलने से ‘खुश’ है।

एक से दूसरे राज्य में जाने पर नहीं होगी अब कोई रोक, जानें अनलॉक-4 गाइडलाइंस की 7 बड़ी बातें

दिल्ली मेट्रो रेल निगम (डीएमआरसी) ने एक बयान में कहा था कि अनलॉक-चार के तहत गृह मंत्रालय द्वारा जारी दिशा-निर्देशों के अनुसार दिल्ली मेट्रो सात सितम्बर से क्रमबद्ध तरीके से लोगों के लिए अपनी सेवाओं को फिर से शुरू करेगी। अधिकारियों ने बताया कि अगले कुछ दिनों में आवास और शहरी मामलों के मंत्रालय द्वारा एक विस्तृत मानक संचालन प्रक्रिया (एसओपी) जारी किए जाने के बाद मेट्रो की कार्य पद्धति और आम जनता द्वारा इसके इस्तेमाल के बारे में विस्तृत जानकारी साझा की जाएगी।

वहीं नोएडा से प्राप्त सूचना के अनुसार, नोएडा मेट्रो रेल कॉरपोरेशन (एनएमआरसी) की प्रबंध निदेशक रितु माहेश्वरी ने बताया था कि एक्वा लाइन पर सेवाएं केन्द्र सरकार के दिशा-निर्देश के अनुरुप शुरू होंगी।

दिल्ली मेट्रो में सबसे बड़ी चुनौती स्टेशनों पर भीड़ नहीं बढ़ने देने का है। इसके लिए भी कई बदलाव किया गया है। पहला कुल 671 मेट्रो स्टेशन के प्रवेश निकास में से महज 38 फीसदी यानि 257 प्रवेश व निकास गेट खुलेंगे। अगर मेट्रो को लगा कि स्टेशन पर भीड़ है तो तुरंत प्रवेश को भी रोका जा सकता है। इसके लिए स्पेशल ड्यूटी पर कर्मी भी स्टेशन पर तैनात किए गए है। 

नजर आएंगे ये पांच बड़े बदलाव

  • प्रवेश गेट पर सुरक्षा के साथ थर्मल स्क्रीनिंग होगी। 
  • प्रवेश व निकास के लिए सभी गेट खुले हुए नहीं मिलेंगे। 
  • यात्रा का समय बढ़ जाएगा, स्टेशन पर ज्यादा देर रुकेगी ट्रेन। 
  • लिफ्ट में एक समय में तीन लोग ही प्रयोग कर पाएंगे। 
  • एयरकंडीशन के तापमान 24 से 30 के बीच में रहेगा

यात्रियों को सफर के लिए रखना होगा ये ध्यान 

  • हमेशा फेस मास्क लगाकर रखना अनिवार्य होगा। 
  • दूसरे यात्रियों से 6 फीट की दूरी रखनी होगी। 
  • अगर आप बीमार है तो आपको प्रवेश नहीं मिलेगा। 
  • मेट्रो के अंदर दो यात्रियों के बीच एक सीट छोड़नी होगी। 
  • मोबाइल में आरोग्य सेतू ऐप अनिवार्य होगा। 





Source link

Be the first to comment

Leave a Reply