नार्थरोप ग्रुमैन के स्पेसशिप की ग्राउंड सपोर्ट इक्विपमेंट में तकनीकी खराबी आई, लॉन्चिंग 2 मिनट 40 सेकंड पहले रोकी गई


  • Hindi News
  • International
  • NASA Scrubs SS Kalpana Chawla Cygnus Launch To ISS|The Launch Of Northrop Grumman’s Antares Rocket Bound For The International Space Station (ISS) Was Scrubbed Due To An Unknown Problem With A Component Of Ground Support Equipment.

वॉशिंगटन11 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

क्ल्पना चावला के नाम वाले स्पेसशिप की लॉन्चिंग वर्जीनिया स्थित नासा के स्पेस सेंटर से होगी। फोटो नासा के लॉन्च पैड पर स्पेसशिप को लॉन्चिंग के लिए रखे जाने के बाद की है।- फाइल फोटो

  • एसएस कल्पना चावला सिग्नस स्पेसशिप को 29 सितंबर को खराब मौसम की वजह से लॉन्च नहीं किया जा सका था
  • अमेरिकन एयरोस्पेस कंपनी नार्थरोप ग्रुमैन ने कल्पना चावला के कार्यों को सम्मान देने के लिए अपने सिग्नस कैप्सूल का नाम उन पर रखा है

नासा ने भारतीय मूल की पहली महिला अंतरिक्ष यात्री कल्पना चावला के नाम वाले सिग्नस स्पेसशिप की लॉन्चिंग शुक्रवार को दूसरी बार टाल दी। अमेरिकन एयरोस्पेस कंपनी नार्थरोप ग्रुमैन के इस कार्गो स्पेसशिप को शुक्रवार को लॉन्च किया जाना था। हालांकि, लॉन्चिंग से सिर्फ 2 मिनट 40 सेकंड पहले इसके ग्राउंड सपोर्ट इक्विपमेंट में खराबी आने के वजह से ऐसा नहीं हो सका। नासा ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी। इससे पहले 29 सितंबर को खराब मौसम की वजह से इसे लॉन्च नहीं किया जा सका था।

नार्थरोप ग्रुमैन ने सितंबर में अपने इस स्पेसशिप का नाम कल्पना चावला के नाम पर रखने का ऐलान किया था। कंपनी ने कहा था- कल्पना चावला के नाम पर अपने अगले एनजी-14 सिग्नस स्पेसक्राफ्ट का नाम रखते हुए हमें गर्व हो रहा है।

वर्जीनिया स्थित स्पेस सेंटर से लॉन्च होगा स्पेसशिप
लॉन्चिंग वर्जीनिया स्थित नासा के स्पेस सेंटर से होगी। इस मिशन का नाम एनजी-14 रखा गया है। इसे कंपनी के एंटारेस रॉकेट की मदद से लॉन्च किया जाएगा। यह दो दिन के बाद इंटरनेशनल स्पेस स्टेशन (आईएसएस) पहुंच जाएगा।

एस एस कल्पना चावला एक री-सप्‍लाई शिप है

नार्थरोप ग्रुमैन कंपनी की परंपरा है हर सिग्‍नस स्‍पेसक्राफ्ट का नाम एक ऐसे शख्स के नाम पर रखा जाता है जिसने ह्यूमन स्‍पेस फ्लाइट में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई हो। कल्पना चावला को इस सम्मान के लिए इसलिए चुना गया क्‍योंकि उन्‍होंने भारतीय मूल की पहली अंतरिक्ष यात्री के रूप में इतिहास रचा था। एस एस कल्पना चावला एक री-सप्‍लाई शिप है। इसकी मदद से आईएसएस पर 3629 किग्रा सामान पहुंचाया जाएगा।



Source link

Be the first to comment

Leave a Reply