पत्नी ने दूसरी शादी से रोका तो युवक ने 6 महीने की बेटी को दीवार पर पटककर मार डाला, पत्नी और ससुर की बाजू तोड़ी


बठिंडा8 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

बठिंडा के रामपुरा फूल में मोर्चरी में रखी दीवार पर पटककर मारी गई 6 महीने की बच्ची एकनूर की लाश।

बठिंडा में एक पिता ने अपनी 6 माह की बेटी को दीवार पर पटककर मारा। इससे उसकी मौत हो गई। इस दौरान बीच-बचाव में आए पत्नी और ससुर की भी आरोपी ने बाजू तोड़ डाली। घायल पत्नी जसविंदर ने बताया कि पति जगदीश ने मंगलवार रात करीब 10 बजे बेटी को मार दिया।

बच्ची को दुलारा फिर पिलर से दे मारा

जसविंदर कौर ने पुलिस को बताया- जगदीश पहले बेटी एकनूर को गोद में उठाकर दुलार करने लगा, फिर अचानक टांगों से पकड़कर उसे उलटा किया और फिर बरामदे के पिलर पर जोर से दे मारा। यह देखते ही जब जसविंदर और उसका पिता गुरचेत सिंह आगे आए तो जगदीश ने फावड़ा उठाकर एक बार जसविंदर के सिर पर दे मारा, जबकि दूसरे वार से उसकी बाजू टूट गई। गुरचेत सिंह के भी बाएं हाथ को फावड़ा मारकर तोड़ दिया।

हैवानियत की घटना के बारे में जानकारी देती भुक्तभोगी जसविंदर कौर, जिसकी बाजू टूट गई।

हैवानियत की घटना के बारे में जानकारी देती भुक्तभोगी जसविंदर कौर, जिसकी बाजू टूट गई।

2016 में मर्चेंट नेवी की नौकरी छोड़ खेती करने लगा था आरोपी

जसविंदर ने कहा- उसका मायका गिल कलां में है। 2017 में उसकी शादी आदमपुरा के जगदीश सिंह के साथ हुई थी, जो 2003 में मर्चेंट नेवी में भर्ती हुआ था। 2016 में उसने नौकरी छोड़ दी और गांव में पिता के साथ मिलकर खेती करने लग गया। शादी के कुछ समय बाद जगदीश ने बताया कि विदेश में रहने वाली महिला के साथ उसका रिलेशन है। वह उसके साथ शादी करना चाहता था।

इसी बीच अप्रैल 2020 में जसविंदर कौर ने बेटी एकनूर को जन्म दिया, लेकिन पति जगदीश पत्नी के साथ-साथ बच्ची को भी नापसंद करने लग गया। अक्सर लड़ाई-झगड़ा कर विदेशी महिला के साथ शादी करवाने के लिए दबाव डालता रहता था।

मंगलवार को जब जगदीश ने वारदात को अंजाम दिया तो शोर सुनकर पड़ोस के लोग जमा हो गए। जिन्होंने जसविंदर कौर और उसके पिता को सिविल अस्पताल रामपुरा में दाखिल करवाया।



Source link

Be the first to comment

Leave a Reply