पाकिस्तान में कोरोना के मामले बढ़कर 2.74 लाख के पार, इमरान बोले- स्मार्ट लॉकडाउन नीति कामयाब रही


पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने सोमवार (27 जुलाई) को कहा कि उनकी सरकार की स्मार्ट लॉकडाउन नीति कोरोना वायरस के प्रसार को थामने में कामयाब रही। देश में यह संक्रमण 5,842 लोगों की जान ले चुका है और 2,74,289 लोगों को संक्रमित कर चुका है। पत्रकारों से बातचीत करते हुए, खान ने कहा कि उनकी सरकार पर सख्त लॉकडाउन को लागू करने का दबाव था, लेकिन उन्होंने इसका विरोध किया और रोजगार के मौके तथा लोगों की जान बचाने के लिए एक संतुलन बनाया।

खान ने कहा, “पाकिस्तान उन चंद देशों में शामिल है, जहां कोरोना वायरस के मामले घट रहे हैं। संक्रमण की दर भारत में अब भी बढ़ रही है।” उन्होंने बकरीद और मोहर्रम पर लोगों से मास्क लगाने की गुजारिश की और आगाह किया कि अगर दिशा-निर्देशों का पालन नहीं किया गया तो मामले फिर से बढ़ सकते हैं। उन्होंने कहा, “ईद-उल-अज़हा और मोहर्रम-उल हराम के दौरान एहतियाती उपाय नहीं किए गए, तो मुल्क में फिर से कोरोना वायरस के मामले बढ़ सकते हैं। ऐसा हुआ तो सरकार को फिर से लॉकडाउन लगाना पड़ेगा जिसका देश की अर्थव्यवस्था पर नकारात्मक प्रभाव पड़ेगा।” 

पाकिस्तान में पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस के 1,176 नए मामले सामने आने के बाद देश में संक्रमण के मामले बढ़कर 2,74,289 हो गए हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि इस दौरान वायरस से संक्रमित 22 और लोगों की जान जाने से मृतक संख्या बढ़कर 5,842 हो गई। संक्रमण के कुल मामलों में सबसे अधिक 1,18,311 मामले सिंध में हैं। इसके बाद पंजाब में 92,073, खैबर-पख्तूनख्वा में 33,397, इस्लामाबाद में 14884, बलूचिस्तान में 11601, पीओके में 2,034 और गिलगित-बाल्टिस्तान में 1,989 मामले हैं।

अधिकारियों ने कहा कि कुल 2,74,289 मामलों में से 2,41,026 लोग ठीक हो चुके हैं और कुल 27, 421 लोगों का कोरोना वायरस का इलाज जारी है। मंत्रालय ने कहा कि देश में मरीजों के ठीक होने की दर 87.87 प्रतिशत है। अधिकारियों ने बताया कि देश में अभी तक कुल 18, 90, 236 नमूनों की जांच की गई है, जिनमें से 22,056 नमूने पिछले 24 घंटे में जांचे गए। ईद उल अज़हा एक अगस्त को मनाई जाएगी। 





Source link

Be the first to comment

Leave a Reply