पूरे जून रहेगा भीषण गर्मी का प्रकोप, मॉनसून के दिल्ली आने में एक सप्ताह की और होगी देरी


देश की राजधानी दिल्ली में रहने वाले लोगों को अभी मॉनसून के लिए एक और हफ्ते का इंतजार करना होगा। ये कहना है भारतीय मौसम विभाग (आईएमडी) का। विभाग का कहना है कि दिल्ली में आधिकारिक तौर पर मॉनसून पहुंचने में अभी एक और हफ्ते का समय लगेगा। 

आईएमडी के क्षेत्रीय मौसम पूर्वानुमान केंद्र के प्रमुख कुलदीप श्रीवास्तव ने कहा, ‘कम से कम अगले सात दिनों तक दिल्ली समेत देश के बाकी हिस्सों में मॉनसून के आगे बढ़ने की संभावना नहीं है।’ श्रीवास्तव ने कहा कि जब तक दिल्ली में मॉनसून की बारिश नहीं होती, तब तक दिल्लीवासियों को उमस भरे मौसम को झेलना होगा।

राजस्थान, दिल्ली, हरियाणा और पंजाब के कुछ हिस्सों को छोड़कर मॉनसून ने अबतक देश के अधिकांश हिस्सों को कवर कर लिया है। आईएमडी ने कहा, ‘2021 में मॉनसून की मुख्य विशेषता पूर्वी, मध्य और आसपास के उत्तर-पश्चिम भारत में सामान्य से पहले (7-10 दिनों तक) इसकी प्रगति है। हालांकि अगले सात दिनों के दौरान देश के शेष हिस्सों में और प्रगति होने की संभावना नहीं है।’

उत्तरी सीमा का मॉनसून बाड़मेर, भीलवाड़ा, धौलपुर, अलीगढ़, मेरठ, अंबाला और अमृतसर से होकर गुजर रहा है। देश में सोमवार तक 37% अधिक बारिश हुई है। उत्तर-पश्चिम भारत में 76% अधिक, मध्य भारत में 58% अधिक, दक्षिण प्रायद्वीप पर 24% अधिक तथा पूर्व और उत्तर पूर्व भारत में 13% अधिक बारिश हुई है।

आम तौर पर मॉनसून 27 जून तक दिल्ली पहुंच जाता है और 8 जुलाई तक पूरे देश को कवर कर लेता है। मौसम का पूर्वानुमान बताने वाली एजेंसी स्काईमेट के अनुसार, पिछले साल मॉनसून 25 जून को दिल्ली पहुंची थी और 29 जून तक पूरे देश को कवर कर लिया था। स्काईमेट के महेश पलावत ने कहा संभावना है कि दिल्ली में जून के अंत में ही मॉनसूनी बारिश होगी।



Source link

Be the first to comment

Leave a Reply