फेसबुक, ड्रापबाॅक्स समेत दुनियाभर की कंपनियों ने अपने कर्मचारियों को दी लाइफटाइम के लिए घर से काम करने की छूट लेकिन मिलेगी पुरी सैलरी


नई दिल्ली2 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
  • ज्यादातर प्राइवेट सेक्टर और मल्टीनेशनल कंपनियों के कर्मचारी घर से काम कर रहे हैं

कोविड-19 और लॉकडाउन के चलते पिछले सात माह से ज्यादातर प्राइवेट सेक्टर और मल्टीनेशनल कंपनियों के कर्मचारी घर से काम (वर्क फ्रॉम होम) कर रहे हैं। वर्क फ्रॉम होम कुछ कंपनियों को इतना पंसद आ गया है कि वे इसे हमेशा के लिए अपना ली हैं। कई दिग्गज कंपनियों ने अपने कर्मचारियों को लाइफटाइम के लिए घर से काम करने की छूट दे दी है। बता दें कि सबसे सोशल नेटवर्किंग साइट ट्विटर ने इसकी शुरूआत की थीह। कंपनी के सीईओ जैक डोरसी ने कहा था- हमारे कर्मचारी जबतक चाहें वर्क फ्रॉम होम कर सकते हैं।

जानिए, लाइफटाइम वर्क फ्राॅम होम देने वाली कंपनियां कौन सी हैं-

ड्रॉप बॉक्स

ड्रॉप बॉक्स टेक कंपनी है। इसके लगभग 3,000 कर्मचारी हमेशा के लिए वर्क फ्रॉम होम कर सकेंगे। हालांकि, कभी-कभार एक दफ्तर चाहे तो जा सकते हैं।

फेसबुक

मार्क जुकरबर्ग ने कहा कि फेसबुक के करीब 50% कर्मचारी अगले पांच से 10 सालों तक घर से ही काम करेंगे। उन्होंने कर्मचारी की सुरक्षा को प्रायोरिटी में रखते हुए यह फैसला किया है। हालांकि जिनका काम दफ्तर के बिना नहीं हो सकता वे दफ्तर जाकर काम करेंगे।

ओक्ता

सॉफ्टवेयर कंपनी ओक्ता (ओकेटीए) में करीब 9,000 से ज्यादा कर्मचारी काम करते हैं। कंपनी के 85% से अधिक कर्मचारी अभी हमेशा के लिए घर से काम कर सकेंगे। कोरोनवायरस वायरस महामारी से पहले कंपनी के 30% ने वर्क फ्रॉम होम किया था।

शोपिफाई

शोपिफाई (Shopify) के अभी सभी कर्मचारी घर से काम कर रहे हैं। कंपनी ने मई में कहा था कि वे 2021 में अपने कार्यालयों को फिर से खोलेगी, लेकिन ज्यादातर कर्मचारी दफ्तर से काम नहीं करेंगे, वे घर से ही काम करेंगे। शॉपिफाई के सीईओ टोबी लुत्के के अनुसार अब कार्यालय की केंद्रितता खत्म हो गई है।

स्लैक

स्लैक जो कि एक कम्यूनिकेशन प्लेटफ़ॉर्म है। जो सैकड़ों कार्यस्थलों के लिए दूरस्थ रूप से काम करना संभव बनाता है, ने ऐसी भूमिकाएं खोली हैं जो दूरस्थ उम्मीदवारों द्वारा भरी जा सकती हैं, और अधिकांश स्लैक कर्मचारियों के पास स्थायी रूप से दूरस्थ रूप से काम करने का विकल्प होता है।

स्कावयर

ट्विटर के सीईओ जैक डोरसी की दूसरी कंपनी स्क्वायर (SQ) ने महामारी के खत्म होने के बाद भी कर्मचारियों को घर से काम करने की अनुमति दे दी है। स्क्वायर ने कहा कि कर्मचारी ऐसे वातावरण से काम करने में सक्षम हों जो उनकी आवश्यकताओं के अनुरूप हो। अगर वे चाहे तो ही दफ्तर आकर काम करें वरना जबतक मन हो घर से ही काम करें।

ट्विटर

ट्विटर ने कहा सबसे पहले अपने कुछ कर्मचारियों को हमेशा के लिए घर से काम करने कहा। टेक कंपनी ने कहा कि पिछले कई महीनों से घर से काम करने के अनुभव से पता चला है कि यह लंबे समय तक काम कर सकता है। कर्मचारियों को पूरा भुगतान किया जाएगा।

जिलो

रियल एस्टेट मार्केटप्लेस कंपनी जिलो Zillow अपने कर्मचारियों को घर से काम करने की सुविधा दे रही है। कंपनी को उम्मीद है कि कुछ घर से स्थायी रूप से काम कर सकते हैं, जबकि अन्य महीने में एक या दो बार एक सप्ताह में कार्यालय में आ सकते हैं।

भारत की हर तीन में से एक काॅल सेंटर्स में हमेशा के लिए WFH लागू

सोमवार को ऑन-डिमांड क्लाउड कम्युनिकेशन एंड टेलीफोनी सॉल्यूशन प्रोवाइडर ओजोन सेल द्वारा किए गए स्टडी में कहा गया है कि भारत में हर तीन में एक कॉल सेंटर परमानेंट WFH पॉलिसी को लागू कर रही हैं। यानी की अब हमेशा के लिए अधिकतर काॅल सेंटर के कर्मचारी घर से काम करेंगे।



Source link

Be the first to comment

Leave a Reply