फ्रांस में फिर एक दिन में 12 हजार केस, कोलंबिया में दूसरी लहर की आशंका; दुनिया में 3.48 करोड़ केस


  • Hindi News
  • International
  • Coronavirus Novel Corona Covid 19 3 Oct | Coronavirus Novel Corona Covid 19 News World Cases Novel Corona Covid 19

वॉशिंगटन9 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

पेरिस में एफिल टॉवर के करीब मौजूद पर्यटक। फ्रांस में शुक्रवार को फिर 12 हजार से ज्यादा नए केस सामने आए। रविवार से राजधानी के सभी बार और रेस्टोरेंट्स बंद किए जा सकते हैं। दो हफ्ते में फ्रांस में 2 लाख से ज्यादा नए मामले सामने आए हैं। (फाइल)

  • दुनिया में 10.33 लाख से ज्यादा लोगों की मौत, 2.58 करोड़ से ज्यादा लोग अब स्वस्थ
  • अमेरिका में 75.49 लाख लोग संक्रमित, 2.13 लाख से ज्यादा लोग जान गंवा चुके हैं

दुनिया में संक्रमितों का आंकड़ा 3.48 करोड़ से ज्यादा हो गया है। ठीक होने वाले मरीजों की संख्या 2 करोड़ 58 लाख 89 हजार 759 से ज्यादा हो चुकी है। मरने वालों का आंकड़ा 10.33 लाख के पार हो चुका है। ये आंकड़े www.worldometers.info/coronavirus के मुताबिक हैं। फ्रांस में तमाम कोशिशों के बावजूद संक्रमण की दूसरी लहर का खतरा कम नहीं हो रहा है। यहां शुक्रवार को फिर 12 हजार से ज्यादा नए मामले सामने आए।

फ्रांस: बेकाबू संक्रमण
फ्रांस में सरकार ने विरोध के बावजूद कई नए प्रतिबंध लगाए हैं। लेकिन, इनका असर अब तक देखने नहीं मिला है। कम से कम आंकड़े तो यही बताते हैं कि दूसरी लहर पर काबू पाने में कामयाबी नहीं मिली है। शुक्रवार को यहां कुल 12 हजार 148 मामले सामने आए। गुरुवार को 13 हजार 970 केस सामने आए थे। बीते दो हफ्ते में यहां कुल मिलाकर दो लाख से ज्यादा नए केस सामने आ चुके हैं। सरकार ने रविवार से राजधानी पेरिस के बार और रेस्टोरेंट्स बंद करने का फैसला किया है। हालांकि, इसकी आधिकारिक घोषणा फिलहाल नहीं की गई है। टूरिस्ट प्लेस को लेकर आज नई गाइडलाइन जारी की जा सकती है। कुछ बॉर्डर को सील किया जा सकता है।

कोलंबिया : राजधानी में खतरा ज्यादा
कोलंबिया की राजधानी बोगाटा में संक्रमण की दूसरी लहर का खतरा बाकी शहरों के मुकाबले ज्यादा घातक साबित हो सकता है। हालांकि, राजधानी की मेयर क्लाउडिया लोपेज मानती हैं कि प्रशासन ने इससे निपटने की तैयारी की है और इसलिए इस पर काबू पाने में कामयाबी हासिल होगी। क्लाउडिया ने कहा- हम मानते हैं कि दूसरी लहर नवंबर या दिसंबर या इसके पहले भी राजधानी को गिरफ्त में ले सकता है। लेकिन, हमने तैयारियां की हैं। उम्मीद है कि यह पहली लहर की तरह खतरनाक साबित नहीं होगी।

कोलंबिया में पांच महीने से लॉकडाउन है। हालांकि, प्रतिबंधों में काफी हद तक ढील दी जा चुकी है। सितंबर से कुछ रेस्टोरेंट्स भी खोले गए हैं। सरकार का कहना है कि छोटे शहरों और स्लम एरिया में संक्रमण का खतरा टला नहीं है।

कोलंबिया की राजधानी बोगाटा में एक व्यक्ति का टेम्परेचर चेक करता हेल्थ वर्कर। यहां की मेयर ने माना है कि देश में संक्रमण की दूसरी लहर का खतरा है और राजधानी पर इसका सबसे ज्यादा असर हो सकता है। (फाइल)

कोलंबिया की राजधानी बोगाटा में एक व्यक्ति का टेम्परेचर चेक करता हेल्थ वर्कर। यहां की मेयर ने माना है कि देश में संक्रमण की दूसरी लहर का खतरा है और राजधानी पर इसका सबसे ज्यादा असर हो सकता है। (फाइल)

चीन : 10 नए केस
चीन में शुक्रवार को 10 नए मामले सामने आए। गुरुवार को भी इतने ही केस सामने आए थे। नेशनल हेल्थ कमिशन ने एक बयान में कहा- जिन लोगों को संक्रमित पाया गया है, वे सभी दूसरे देशों से चीन आए थे। स्थानीय संक्रमण के कोई संकेत या सबूत नहीं मिले हैं। देश में फिलहाल, 189 एक्टिव केस हैं। इनमें से कुछ मरीजों की हालत गंभीर है। इसके अलावा चार मामलों की रिपोर्ट आनी बाकी है। चीन में अब तक कुल 85,434 मामले सामने आए हैं। मरने वालों की संख्या 4,634 हो चुकी है।

चीन की राजधानी बीजिंग में मौजूद लोग। शुक्रवार को यहां लगातार दूसरे दिन 10 मामले सामने आए। 4 की पुष्टि होनी बाकी है। (फाइल)

चीन की राजधानी बीजिंग में मौजूद लोग। शुक्रवार को यहां लगातार दूसरे दिन 10 मामले सामने आए। 4 की पुष्टि होनी बाकी है। (फाइल)

स्पेन : मैड्रिड लॉकडाउन के लिए तैयार
स्पेन की राजधानी मैड्रिड में सरकार ने कुछ हॉटस्पॉट्स की पहचान की है। सरकार का कहना है कि यहां लॉकडाउन लगाए बिना संक्रमण रोकना आसान नहीं है। लेकिन, स्थानीय प्रशासन और लोग केंद्र के इस फैसले का विरोध कर रहे हैं। परेशानी की बात यह है कि दो हफ्ते में यहां एक लाख 33 हजार से ज्यादा मामले सामने आए हैं और सरकार की फिक्र का सबब भी यही आंकड़ा है। हेल्थ मिनिस्टर साल्वाडोर इले ने कहा- मैड्रिड की हेल्थ ही स्पेन की हेल्थ भी है। हमने नियमों की नई सूची तैयार कर ली है और इसे जल्द लागू करेंगे। मैड्रिड में 9 उपनगरीय इलाके हैं। यहां करीब 30 लाख लोग रहते हैं। फिलहाल, बाहर से आने वालों पर बैन लगाया गया है।



Source link

Be the first to comment

Leave a Reply