बिहार के बाद अब राजस्थान के DGP ने दिया VRS के लिए आवेदन, जानें क्या हैं कारण


राजस्थान के पुलिस प्रमुख भूपेंद्र सिंह ने बुधवार को स्वेच्छा से सेवानिवृत्ति (VRS) के लिए आवेदन दिया है। राजस्थान के एक शीर्ष नौकरशाह ने इसकी पुष्टि की। अधिकारी ने कहा, “पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) भूपेंद्र सिंह ने स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति के लिए आवेदन किया है। उनकी जगह अब डीजीपी अपराध एमएल लाठर को नियुक्त किया जा सकता है।”

उन्होंने कहा कि भूपेंद्र सिंह राजस्थान उप्र लोक सेवा आयोग के अध्यक्ष के रूप में दीपक उप्रेती की जगह ले सकते हैं या अजमेर में एमडीएस विश्वविद्यालय के नए कुलपति हो सकते हैं। उप्रेती का रिटायरमेंट अगले सप्ताह होने वाला है। आपको बता दें कि पिछले साल अगस्त में उन्हें जून 2021 तक विस्तार दिया गया था।

यह भी पढ़ें- गुप्तेश्वर पांडेय को 11 साल पहले बीजेपी ने किया था निराश, क्या अब नीतीश पूरी करेंगे आस?

भूपेंद्र सिंह 1986 बैच के आईपीएस अधिकारी, जिन्हें 30 जून, 2019 को पुलिस महानिदेशक बनाया गया था और माना गया था कि वह दो साल के लिए इस पद को संभालेंगे। सेवा विस्तार का निर्णय संघ लोक सेवा आयोग द्वारा गठित समिति की सिफारिश और राज्य सरकार के कार्मिक विभाग द्वारा जारी आदेश पर आधारित था।

भूपेंद्र सिंह और एसीबी डीजी आलोक त्रिपाठी राज्य के सबसे वरिष्ठ आईपीएस अधिकारी हैं। DGP से पहले, सिंह ATS और SOG DG के रूप में तैनात थे। लंबे समय तक वह जोधपुर में तैनात रहे, जो सीएम अशोक गहलोत का गृह क्षेत्र है।

यह भी पढ़ें- गुप्तेश्वर पांडे ने बताया- महादलित की बेटी का किया कन्यादान, मेरे घर में लगा था मंडप

आपको बता दें कि हाल ही में बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडे ने पुलिस सर्विस से वीआरएस ले लिया। राज्यपाल ने उनके आवेदन को मंजूर भी कर लिया। इस बात के कयास लगाए जा रहे हैं कि गुप्तेश्वर पांडे पुलिस की नौकरी छोड़ने के बाद अब राजनीति में दांव आजमा सकते हैं।



Source link

Be the first to comment

Leave a Reply