भारत में लोन वुल्फ अटैक कराने की फिराक में अलकायदा, हिंदूवादी नेता, मंत्री और बड़े कारोबारी निशाने पर


  • बांग्लादेशी युवाओं को ऑनलाइन ट्रेनिंग कंटेंट बनाने की जिम्मेदारी दी गई, कई वेबसाइट्स पर वीडियो, ऑडियो और मैग्जीन भी अपलोड हुए
  • इन कंटेंट में अटैक से जुड़ी जानकारी होती है, प्लानिंग करने से लेकर हमले को अंजाम देने के लिए सभी बातें बताई जाती हैं

दैनिक भास्कर

Jun 10, 2020, 05:32 PM IST

नई दिल्ली. भारत में ”लोन वुल्फ अटैक” के जरिए आतंकी संगठन अलकायदा बड़ी तबाही मचाने की साजिश रच रहा है। इनके निशाने पर सरकार के बड़े मंत्री, अफसर, हिंदूवादी नेता और सुरक्षा एजेंसी से जुड़े महत्वपूर्ण लोग शामिल हैं। 
अलकायदा ने बांग्लादेश में कट्‌टर इस्लामिक सोच के छात्रों और प्रोफेशनल युवाओं को ऑनलाइन ट्रेनिंग कंटेंट बनाने की जिम्मेदारी दी है। खुफिया एजेंसी के सूत्रों ने न्यूज एजेंसी को बताया कि इन ऑनलाइन ट्रेनिंग कंटेंट के जरिए भारत में जिहादी सोच रखने वाले युवाओं को लोन वुल्फ अटैक के लिए ट्रेनिंग दी जाएगी। मुस्लिम युवाओं को उकसाया जाएगा। पिछले दिनों कुछ वीडियो, मैग्जीन अलग-अलग वेबसाइट्स पर पोस्ट भी किए गए थे। 

वीवीआईपी की सुरक्षा में लगे एजेंसियों को किया सतर्क
खुफिया एजेंसियों ने इनपुट के आधार पर देश के सभी वीवीआई की सुरक्षा मजबूत करने को कहा है। इनकी सुरक्षा में लगे जवानों को हमेशा सतर्क रहने के लिए कहा गया है। वीवीआई से मिलने के लिए आने-जाने वाले सभी लोगों पर नजर रखने और उनकी अच्छे से तलाशी लेने का आदेश दिया गया है। सुरक्षाबलों को यह भी हिदायत दी गई है कि वह किसी तरह से भी भय का माहौल न बनने दें। 

कश्मीर में आतंकियों के एनकाउंटर से बौखलाया अलकायदा
कश्मीर में लगातार आतंकियों का खात्मा होता देख आतंकी संगठन अलकायदा बौखलाने लगा है। यही कारण है कि उसने देश में दहशत फैलाने के लिए अब लोन वुल्फ अटैक का सहारा लेने की कोशिश में है। इस साल जनवरी से लेकर अब तक कश्मीर में अलग-अलग एनकाउंटर में करीब 100 आतंकवादी मारे जा चुके हैं। इनमें 8 से ज्यादा टॉप कमांडर थे।

ऐसे होता है लोन वुल्फ अटैक

  • विशेषज्ञ कहते हैं कि लोन वुल्फ अटैकर्स के दिमाग को पूरी तरह से कैप्चर कर लिया जाता है।
  • उन्हें जितना कहा जाएगा उतना ही वह करेंगे। उसके आगे उन्हें समझने व सोचने की शक्ति नहीं रहती है।
  • ‘लोन वुल्फ’ अटैक को बिना टीम के अंजाम दिया जाता है। मतलब एक अकेला आतंकी पूरे हमले को अंजाम देता है।
  • ‘लोन वुल्फ’ अटैक भेड़िए की तरह अकेले हमला करने की रणनीति है।
  • इस अटैक में सभी तरह के हथियारों का प्रयोग किया जा सकता है। आतंकी का मकसद टारगेट के साथ ज्यादा से ज्यादा लोगों को क्षति पहुंचाना होता है। 



Source link

Be the first to comment

Leave a Reply