राजस्थान में हैवानियत: परिजन गए थे गांव की सरकार चुनने, दरिंदों ने घर से अगवा कर नाबालिग से किया गैंगरेप


राजस्थान के सरहदी बाड़मेर जिले में एक नाबालिग से सामूहिक दुष्कर्म की घटना ने एक बार फिर लोगों को झकझोर दिया है। यहां एक नाबालिग लड़की के परिजन गांव की सरकार चुनने के लिए सरपंच चुनाव में वोट डालने गए थे, इस बीच दरिंदों ने किशोरी का अपहरण कर उससे गैंगरेप की घटना को अंजाम दिया। परिजनों की रिपोर्ट पर पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

जानकारी के मुताबिक, मामला भारत-पाकिस्तान सीमा से सटे सरहदी बाड़मेर जिले के शिव थाना क्षेत्र स्थित एक गांव का है। मंगलवार शाम को गांव के दो युवकों ने नाबालिग लड़की का अपहरण कर उसके साथ गैंगरेप किया। साथ ही उसकी अश्लील फोटो भी खींच ली। पीड़ित परिवार के मुताबिक, परिवार के सभी लोग मतदान करने के लिए गए हुए थे। घर पर नाबालिग लड़की अकेली थी। दो युवकों ने लड़की का अपहरण कर मोटरसाइकिल पर बैठाकर घर से दूर ले जाकर गैंगरेप किया और उसकी अश्लील फोटो भी खींच ली।

हाथरस कांड की जांच रिपोर्ट पेश करने लिए SIT को और 10 दिन की मोहलत मिली

जब परिवार के लोग मतदान कर घर लौटे तो लड़की घर पर नहीं थी। इधर-उधर खोज करने पर नाबालिग का कहीं सुराग नहीं लगा। परिजनों ने भियाड़ पुलिस चौकी को सूचना दी दी, जिसके बाद देर शाम घर से दूर बालिका अचेत अवस्था में मिली। परिजन नाबालिग को लेकर शिव अस्पताल गए, जहां प्राथमिक उपचार के बाद उसे बाड़मेर रेफर कर दिया गया।

वहीं, घटना की जानकारी मिलते ही थानाधिकारी विक्रम सिंह सांदू अलग-अलग टीम का गठन कर आरोपियों की तलाश में जुट गए हैं। शिव थानाधिकारी विक्रम सिंह सांदू के मुताबिक, परिजनों की रिपोर्ट के आधार पर पॉक्सो व आईटी एक्ट के तहत मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है। पीड़िता का राजकीय अस्पताल में इलाज चल रहा है।



Source link

Be the first to comment

Leave a Reply