लॉकडाउन: दिल्ली, मुंबई के बाद अब हैदराबाद में घर वापस जाने के लिए इकट्ठा हुए प्रवासी मजदूर, पुलिस पर किया पथराव


कोरोना के कारण पूरे देश में लॉकडाउन है। लोग सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कर अपने-अपने घरों में हैं। इस लॉकडाउन से सबसे ज्यादा समस्या प्रवासी मजदूरों को हो रही है। पहले दिल्ली, फिर सूरत और मुंबई के बाद अब तेलंगाना में फंसे मजदूर घर वापस जाने के लिए इकट्ठा हो गए। इस दौरान लॉकडाउन और सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जी उड़ गई।

सांगारेड्डी की ग्रामीण पुलिस ने बताया कि आईआईटी हैदराबाद के कंस्ट्रक्शन साइट पर काम कर रहे लगभग 2400 प्रवासी मजदूर आज सुबह इकट्ठा हो गए और घर वापस भेजने की मांग करने लगे। इस दौरान उन्होंने प्रदर्शन भी किया।

पुलिस के मुताबिक उनमें से कुछ मजदूरों ने पुलिस पर पथराव भी किया, जिसमें एक जवान घायल हो गया वहीं, पुलिस की गाड़ी को नुकसान पहुंचा है।

आपको बता दें कि देश में कोरोना वायरस से निपटने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लॉकडाउन तीन मई तक के लिए बढ़ा दिया है। लेकिन इसके उलट हाल ही में मुंबई में यह अफवाह फैलाई गई थी कि ट्रेन खोली जाएगी। इस वजह से बांद्रा रेलवे स्टेशन पर प्रवासी मजदूरों की भारी भीड़ इकट्ठा हो गई थी। बाद में पुलिस की करर्रवाई के बाद भीड़ हट गई।

इससे पहले दिल्ली में भी ऐसी ही स्थिति उत्पन्न हुई थी। दिल्ली और यूपी के बॉर्डर पर प्रवासी मजदूर इकट्ठा हो गए थे। इसके बाद उन्हें बसों के सहारे घर तक छोड़ा गया। हाल में गुजरात में सूरत की सड़कों पर भई ऐसी ही स्थिति उत्पन्न हो गई थी।





Source link

Be the first to comment

Leave a Reply