वारबर्ग पिनकस ने होम फर्स्ट फाइनेंस कंपनी में 700 करोड़ रुपए का निवेश किया, 25 प्रतिशत मिलेगी हिस्सेदारी


  • Hindi News
  • Business
  • Warburg Pincus Invested Rs 700 Crore In Home First Finance, Interested Private Equity In The Affordable Homes Segment

मुंबई2 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

होमफर्स्ट का कहना है कि कोरोना की महामारी में फर्स्ट होम का डेवलपमेंट घर खरीदारों के लिए आत्मविश्वास बढ़ाने का काम करता है

  • 10 साल पुरानी होम फर्स्ट फिलहाल 11 राज्यों के 60 जिलों में फैली हुई है
  • इसका एयूएम 3,618 करोड़ रुपए जबकि नेटवर्थ 933 करोड़ रुपए है

भारत की अग्रणी अफोर्डेबल हाउसिंग फाइनेंस कंपनियों में से एक होम फर्स्ट फाइनेंस कंपनी में वारबर्ग पिनकस ने 700 करोड़ रुपए का निवेश किया है। यह निवेश वारबर्ग की सब्सिडियरी ऑरेंज क्लोड इन्वेस्टमेंट्स बीवी के साथ समझौते के तहत किया गया है। इसके एवज में वारबर्ग को 25 प्रतिशत की हिस्सेदारी मिलेगी। इस आधार पर होम फाइनेंस का वैल्यूएशन 2,800-3000 करोड़ रुपए है। कंपनी मार्च 2021 में आईपीओ लाने की योजना बना रही है।

वारगबर्ग वैश्विक स्तर की प्राइवेट इक्विटी फर्म है जो निवेश का काम करती है। वारबर्ग पिनकस ने मौजूदा पीई फर्म शेयरहोल्डर्स ट्रू नार्थ और बेसीमेर वेंचर पार्टनर्स से हाथ मिलाया है।

सस्ते घरों के सेगमेंट में काम करती है होम फर्स्ट

होम फर्स्ट एक टेक्नोलॉजी द्वारा संचालित, अफोर्डेबल हाउसिंग फाइनेंस कंपनी है। यह कम और मध्यम आय वाले ग्राहकों को होम लोन प्रदान करती है, जो पहली बार घरों का कंस्ट्रक्शन करा रहे हैं या खरीद रहे हैं। पिछले 10 वर्षों में, होम फर्स्ट ने 11 राज्यों के 60 जिलों में 50,000 से अधिक ग्राहकों को होम लोन दिया है। होमफर्स्ट का कहना है कि कोरोना की महामारी में फर्स्ट होम का डेवलपमेंट घर खरीदारों के लिए आत्मविश्वास बढ़ाने का काम करता है। साथ ही साथ पूरे सस्ते हाउसिंग मार्केट में एक नई जान फूंक रहा है।

तेजी से बढ़ती हुई कंपनी है होम फर्स्ट

ट्रू नॉर्थ की पार्टनर दिव्या सहगल ने कहा कि होम फर्स्ट भारत में सबसे तेजी से बढ़ती अफोर्डेबल हाउसिंग फाइनेंस कंपनियों में से एक है। उसने अपने नए क्रेडिट कस्टमर बेस के लिए अंडरराइटिंग क्षमताओं का निर्माण किया है। उन्होंने कहा कि कंपनी ने कोविड संकट के दौरान भी टेक्नोलॉजी का अच्छे तरीके से उपयोग कर अपना बिजनेस आगे बढ़ाया है। अपने ग्राहकों के लिए भी अच्छा काम किया है। हम वारबर्ग पिनकस का स्वागत करते हैं और फर्स्ट होम की आगामी यात्रा में उनके साथ साझेदारी करने के लिए तैयार हैं।

10 साल का अनुभव है होम फर्स्ट को

वारबर्ग पिनकस के एमडी नरेंद्र ओस्तवाल कहते हैं कि होम फर्स्ट की सस्ते घरों के सेगमेंट में अच्छी यात्रा रही है। इसके पास टैलेंट वाली टीम है। 10 साल के कम समय में कंपनी ने अच्छा काम किया है। हमारा फोकस टेक्नोलॉजी पर निवेश कर ग्राहकों को अच्छी सेवा देना है। ट्रू नार्थ हमारे लिए एक मजबूत साझीदार पिछले कुछ सालों से है।

होम फर्स्ट की स्थापना 2010 में हुई थी और 10 सालों में यह 11 राज्यों के 60 जिलों में फैली हुई है। 31 मार्च 2020 तक इसका एयूएम 3618 करोड़ रुपए था। जबकि नेटवर्थ 933 करोड़ रुपए थी।



Source link

Be the first to comment

Leave a Reply