सीजन में धोनी-कार्तिक मिलकर भी शुभमन के बराबर रन नहीं बना सके, अश्विन जैसे 5 सीनियर बॉलर्स एक भी मेडन नहीं डाल पाए


  • Hindi News
  • Sports
  • Cricket
  • Ipl 2020
  • MS Dhoni Shubman Gill Rahul Tewatia; IPL 2020 OLD Vs Young Player Performance Records Statistics | Indian Premier League Latest News Update

एक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक

दुनिया की सबसे महंगी क्रिकेट लीग आईपीएल युवा खिलाड़ियों के लिए सबसे बड़ा प्लेटफॉर्म है। जसप्रीत बुमराह, हार्दिक पंड्या, दीपक चाहर, नवदीप सैनी, क्रुणाल पंड्या जैसे खिलाड़ियों ने आईपीएल में दम दिखाकर टीम इंडिया में जगह बनाई है। इस बार देवदत्त पडिक्कल, शुभमन गिल और राहुल तेवतिया जैसे यंग प्लेयर्स कमाल दिखा रहे हैं। शुभमन टीम इंडिया के लिए 2 वनडे खेल चुके हैं, जबकि पडिक्कल और तेवतिया ने दावेदारी पेश की है।

इन युवा खिलाड़ियों के आगे महेंद्र सिंह धोनी, दिनेश कार्तिक और रॉबिन उथप्पा जैसे सीनियर प्लेयर भी फीके नजर आ रहे हैं। लगभग हर सीजन में हीरो रहे यह सीनियर खिलाड़ी इस बार स्ट्रगल करते नजर आ रहे हैं। वहीं, रविचंद्रन अश्विन और पीयूष चावला समेत 5 सीनियर गेंदबाज एक भी मेडन ओवर नहीं डाल सके हैं।

पडिक्कल और प्रियम ने डेब्यू सीजन में दिखाया दम
रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु (आरसीबी) के ओपनर पडिक्कल और सनराइजर्स हैदराबाद के बल्लेबाज प्रियम गर्ग का यह डेब्यू सीजन है। पडिक्कल ने अब तक 9 पारियों में 296 और प्रियम ने 7 पारियों में 106 रन बनाए हैं। इस दौरान पडिक्कल ने 3 और प्रियम ने 1 फिफ्टी के साथ टीम को मैच जिताए हैं।

कोलकाता नाइट राइडर्स के शुभमन गिल अपना तीसरा और मुंबई इंडियंस के ईशान किशन 5वां सीजन खेल रहे हैं। शुभमन ने 9 मैच में 2 फिफ्टी के साथ 311 और ईशान ने 7 मैच में एक अर्धशतक के साथ 193 रन बनाए हैं।

धोनी और कार्तिक मिलकर शुभमन के बराबर भी रन नहीं बना सके
चेन्नई सुपर किंग्स के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी और आधे टूर्नामेंट में कोलकाता नाइट राइडर्स की कप्तानी छोड़ने वाले दिनेश कार्तिक इस सीजन में एक-एक रन के लिए जूझ रहे हैं। दोनों ने अब तक 9-9 मैच खेले, जिनमें कार्तिक ने 141 और धोनी ने 136 रन बनाए हैं। दोनों के कुल रन शुभमन (311) से भी कम हैं। वहीं, राजस्थान रॉयल्स के रॉबिन उथप्पा का बल्ला भी इस सीजन में खामोश ही है। उन्होंने 7 मैच में 124 रन बनाए हैं।

ऑलराउंडर तेवतिया से पीछे सीनियर जडेजा
आईपीएल में 180 मैच खेल चुके सीनियर ऑलराउंडर रविंद्र जडेजा 30 मैच खेलने वाले जूनियर प्लेयर राहुल तेवतिया से हर मामले में पीछे हैं। तेवतिया ने इस सीजन के 9 मैच में 222 रन बनाए और 6 विकेट भी लिए। वहीं, जडेजा 9 मैच 159 रन ही बना सके और 4 विकेट लिए।

सीजन में धोनी-कार्तिक मिलकर भी शुभमन के बराबर रन नहीं बना सके, अश्विन जैसे 5 सीनियर बॉलर्स एक भी मेडन नहीं डाल पाए

बॉलर बिश्नोई और त्यागी का शानदार डेब्यू
किंग्स इलेवन पंजाब के रवि बिश्नोई और राजस्थान रॉयल्स के कार्तिक त्यागी का यह डेब्यू सीजन है। दोनों ने अपनी शानदार बॉलिंग से सबका ध्यान खींचा है। रवि ने 9 मैच में 9 और कार्तिक ने 5 मैच में 5 विकेट लिए हैं।

सीजन में सबसे ज्यादा यॉर्कर नटराजन के नाम
सनराइजर्स हैदराबाद के तेज गेंदबाज टी नटराजन इस सीजन में यॉर्कर स्पेशलिस्ट बनकर उभरे हैं। दूसरा सीजन खेल रहे नटराजन ने अब तक उन्होंने 9 मैच में 11 विकेट लिए। इस दौरान उन्होंने सबसे ज्यादा 29 यॉर्कर डाली हैं।

जबकि टीम इंडिया के रेगुलर बॉलर जसप्रीत बुमराह 17 ही यॉर्कर डाल सके हैं। हालांकि, बुमराह विकेट के मामले में आगे हैं। उन्होंने 9 मैच में 15 विकेट लिए हैं। नटराजन के अलावा शिवम मावी, मुरुगन अश्विन और कार्तिक त्यागी जैसे यंग प्लेयर्स ने भी शानदार प्रदर्शन किया है।

सीजन में धोनी-कार्तिक मिलकर भी शुभमन के बराबर रन नहीं बना सके, अश्विन जैसे 5 सीनियर बॉलर्स एक भी मेडन नहीं डाल पाए

कुलदीप और विजय शंकर विकेट के लिए तरसे
भारतीय टीम के लिए मैच खेल चुके कुलदीप यादव और विजय शंकर इस सीजन में विकेट के लिए तरस गए हैं। 4-4 मैच खेलने के बाद शंकर ने सिर्फ 2 और कुलदीप ने एक ही विकेट लिया है। इनके अलावा रविचंद्रन अश्विन, पीयूष चावला, जयदेव उनादकट भी अपने नाम के हिसाब से खेल नहीं दिखा सके। यह सभी सीनियर बॉलर इस सीजन में अब तक एक भी मेडन ओवर भी नहीं डाल सके।

सीजन में धोनी-कार्तिक मिलकर भी शुभमन के बराबर रन नहीं बना सके, अश्विन जैसे 5 सीनियर बॉलर्स एक भी मेडन नहीं डाल पाए



Source link

Be the first to comment

Leave a Reply