सुशांत मामले ने हमें बॉलीवुड में ड्रग्स की पैठ होने के संकेत दिए: एनसीबी


नारकोटिक्स नियंत्रण ब्यूरो (एनसीबी) के एक वरिष्ठ अधिकारी ने शनिवार को कहा कि अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत से जुड़े ड्रग्स कनेक्शन के मामले ने एजेंसी को बॉलीवुड में नशीले पदार्थों के नेटवर्क और उसकी पैठ होने के संकेत दिए हैं। एनसीबी के दक्षिण-पश्चिम क्षेत्र के उप महानिदेशक एम अशोक जैन ने बल्लार्ड इस्टेट क्षेत्र में अपने दफ्तर के बाहर संवाददाताओं से कहा कि एजेंसी इस जांच को तार्किक परिणति तक ले जाएगी।

एजेंसी ने इस मामले में अभी तक पांच लोगों को गिरफ्तार किया है जिनमें राजपूत की हत्या मामले में मुख्य आरोपी उनकी प्रेमिका रिया चक्रवर्ती का भाई शौविक चक्रवर्ती और राजपूत का हाउस मैनेजर सैमुअल मिरांडा शामिल हैं। जैन ने कहा कि एनसीबी के कार्यक्षेत्र में ‘बड़ी मछली की तलाश करना और अंतरराष्ट्रीय तथा अंतरराज्यीय ड्रग्स लेनदेन का पता लगाना भी शामिल है, वहीं वह अपनी जिम्मेदारी से नहीं बचेगी तथा उसे इस मादक पदार्थों के मामले में कथित सांठगांठ की जानकारी मिल रही है।

हिंदी फिल्म उद्योग में मादक पदार्थों को लेकर सांठगांठ के सबूतों के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा, सामान्य तौर पर यह हमारे कार्यक्षेत्र का हिस्सा नहीं है लेकिन हमें अब जानकारी मिल रही है। इस मामले ने हमें नेटवर्क तथा किस हद तक इसकी बॉलीवुड में पैठ है, उसके संकेत दिए हैं।

एनसीबी ने दो दिन पहले इस मामले में एक आरोपी की रिमांड की मांग करते हुए अदालत में बताया था कि वह इस मामले में ”मुंबई में, खासकर बॉलीवुड में मादक पदार्थों की पैठ का पता लगा रही है। जैन ने बताया कि वे रिया से जांच में शामिल होने को कहेंगे। उन्होंने कहा, शौविक और मिरांडा को हिरासत में लेने का मकसद लोगों का एक दूसरे से सामना कराना है। इसलिए हम रिया से जांच में शामिल होने को कहेंगे और संभवत: कुछ और लोगों को तलब किया जा सकता है क्योंकि हमें इस बारे में स्पष्टता चाहिए कि किसने क्या किया। जैन ने कहा कि एजेंसी मामले में ‘ठोक बजाके आगे बढ़ रही है और जो भी जिम्मेदार पाया गया, उसे पूछताछ के लिए बुलाया जाएगा।

यह भी पढ़ें- सुशांत सिंह से जुड़े ड्रग्स केस का है कोई इंटरनेशनल लिंक?

जब पूछा गया कि क्या अभिनेत्री कंगना रनौत को भी बुलाया जाएगा जिन्होंने बॉलवुड में मादक पदार्थों के इस्तेमाल के दावे हाल ही में किये हैं तो जैन ने कहा कि इस मामले से उनका अब तक कोई सीधा लेनादेना नहीं है। उन्होंने कहा, अगर वह (कंगना) कुछ साझा करती हैं तो हम उसकी प्रासंगिकता देखेंगे। जैन ने मीडिया से कहा कि वह यह अटकल नहीं लगाएंगे कि आगे किसे गिरफ्तार किया जाएगा और वह साक्ष्यों पर भी बात नहीं कर सकते।

एनसीबी राजपूत की मौत के मामले में मादक पदार्थ वाले कोण से एनडीपीएस कानून की आपराधिक धाराओं के तहत जांच कर रही है। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने इस मामले में उसके साथ एक रिपोर्ट साझा की थी। इससे पहले इस मामले में शुक्रवार को गिरफ्तार किये गये रिया के भाई शौविक और सुशांत के हाउस मैनेजर रहे मिरांडा को यहां एक अदालत ने नौ सितंबर तक एनसीबी की हिरासत में भेज दिया। शौविक और मिरांडा के अलावा एनसीबी ने जैद विलात्रा (21) और आब्देल बासित परिहार (23) को भी गिरफ्तार किया है। वे इस समय जांच एजेंसी की हिरासत में हैं।





Source link

Be the first to comment

Leave a Reply