सोनभद्र में लड़की की पिटाई का फेक वीडियो गुजरात का निकला, पुलिस ने भास्कर को बताया – इसमें जाति वाला कोई एंगल नहीं


दैनिक भास्कर

Jun 11, 2020, 06:01 AM IST

क्या वायरल : सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो को उत्तरप्रदेश के सोनभद्र का बताया जा रहा है। दावा किया जा रहा है कि आदिवासी महिला के कुएं से पानी भरने पर सवर्णों ने उसकी पिटाई की। 

वीडियो के साथ वायरल हो रहे ट्वीट 

https://bit.ly/3dQRCxC
सोनभद्र में लड़की की पिटाई का फेक वीडियो गुजरात का निकला, पुलिस ने भास्कर को बताया - इसमें जाति वाला कोई एंगल नहीं
https://twitter.com/KusumKailash/status/1270207777928097794
सोनभद्र में लड़की की पिटाई का फेक वीडियो गुजरात का निकला, पुलिस ने भास्कर को बताया - इसमें जाति वाला कोई एंगल नहीं
https://twitter.com/BrijeshBagi/status/1269964510846087168

फेसबुक पर भी वायरल 

सोनभद्र में लड़की की पिटाई का फेक वीडियो गुजरात का निकला, पुलिस ने भास्कर को बताया - इसमें जाति वाला कोई एंगल नहीं

फैक्ट चेक पड़ताल 

सोनभद्र में ऐसी किसी घटना से जुड़ी खबर हमें इंटरनेट पर अलग-अलग कीवर्ड से सर्च करने पर भी नहीं मिली। लेकिन, सोनभद्र पुलिस के अधीक्षक की तरफ से जारी किया गया एक बयान मिला। इसे सोनभद्र पुलिस के आधिकारिक ट्विटर हैंडल और फेसबुक पेज पर अपलोड किया गया है। बयान में एसपी ने बताया कि जिस घटना का वीडियो वायरल हो रहा है वह असल में सोनभद्र की नहीं, बल्कि गुजरात की है। 

गुजरात में 16 साल की लड़की की पिटाई से जुड़ी खबरें तलाशने पर हमें एशियानेट की एक खबर मिली। इस खबर के अनुसार, गुजरात के छोटा उदयपुर तालुका के बिलवंत गांव में ऐसी ही एक घटना हुई। लड़की खुद से दोगुनी उम्र के लड़के से शादी करना चाहती थी। इसके चलते उसके परिवार के सदस्य और अन्य परिजनों ने उसकी पिटाई की। 

– एशियानेट की खबर और सोनभद्र एसपी के बयान से यह साबित हो गया कि घटना उत्तरप्रदेश की नहीं बल्कि गुजरात की है। लड़की की पिटाई किसके द्वारा और क्यों की जा रही है, इसकी आधिकारिक पुष्टि के लिए हमने गुजरात पुलिस से संपर्क साधा। 

छोटा उदयपुर तालुका के पुलिस अधीक्षक (एसपी) एमएस भभोर ने बताया कि नाबालिग लड़की के साथ मारपीट करने वाले लोग भी आदिवासी ही हैं। लड़की अपने से दोगुनी उम्र के लड़के के साथ शादी करने के लिए घर छोड़कर भागी थी। घर वालों ने उसे ढूंढ कर बेरहमी से उसकी पिटाई की। इसी घटना का वीडियो वायरल हो रहा है। लड़की के साथ मारपीट करने वाले सभी 16 आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। चूंकि लड़की नाबालिग थी, इसलिए जिस लड़के के साथ वह भागी थी, उस पर भी अपहरण से जुड़ी धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है। 

निष्कर्ष : वायरल वीडियो से जुड़े दोनों दावे फर्जी हैं। न तो यह घटना सोनभद्र की है। न ही यह जातिवाद से जुड़ा मामला है। 





Source link

Be the first to comment

Leave a Reply