10 साल पहले शुरुआती 8 में से 5 मैच हारकर भी चैम्पियन बनी थी CSK; इस बार भी पहले 8 में से 3 मैच ही जीत पाई है धोनी की टीम


15 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

चेन्नई सुपर किंग्स ने मंगलवार को सनराइजर्स हैदरााबद को 20 रन से हराया था। सीजन में 6 पॉइंट्स के साथ सीएसके पॉइंट्स टेबल में 6वें स्थान पर है।

आईपीएल के 13वें सीजन में चेन्नई सुपर किंग्स (सीएसके) ने अब तक खेले 8 मुकाबलों में से सिर्फ 3 मुकाबले ही जीते हैं। टीम के प्रदर्शन को लेकर आलोचक धोनी की टीम पर सवालिया निशान लगा रहे हैं। हालांकि 10 साल पहले 2010 में भी चेन्नई ने शुरुआती 8 मैचों में से 5 हारे थे। उस साल धोनी की टीम ने न सिर्फ आईपीएल खिताब पर कब्जा जमाया था, बल्कि चैम्पियंस लीग भी जीती थी।

6 पॉइंट्स के साथ 6वें स्थान पर है सीएसके
चेन्नई के अभी 6 पॉइंट्स हैं और वह पॉइंट्स टेबल में 6वें स्थान पर है। चेन्नई ने सीजन के ओपनिंग मैच में मुंबई इंडियंस को 5 विकेट से हराया था। उसके बाद टीम ने लगातार 3 मैच हारे थे। इसके बाद सीएसके ने पंजाब को 10 विकेट से शिकस्त देकर हार की चेन तोड़ी थी।

अगले ही मैच में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु के खिलाफ टीम को सबसे बड़ी हार का सामना करना पड़ा। इसके बाद कोलकाता नाइट राइडर्स के खिलाफ भी टीम ने जीता हुआ मैच गंवा दिया। हैदराबाद के खिलाफ अपना पिछला मुकाबला जीतकर टीम ने लीग में अपनी संभावनाओं को बरकरार रखा।

2010 में इन्हीं परिस्थितियों में चेन्नई बनी थी चैम्पियन
2010 में भी चेन्नई शुरुआती 8 मुकाबलों में से सिर्फ 3 मैच जीत पाई थी। उसके बाद अगले 6 मैचों में से 4 मैच जीतकर उसने प्ले-ऑफ के लिए क्वालिफाई किया था। सेमी फाइनल में उसने डेक्कन चार्जर्स को हराकर फाइनल में जगह बनाई थी। वहीं, फाइनल में मुंबई को 22 रन से हराकर चेन्नई ने पहली बार आईपीएल खिताब पर कब्जा किया था।

2010 में ही चैम्पियंस लीग भी जीती
चेन्नई ने इस साल सिर्फ आईपीएल ही नहीं बल्कि चैम्पियंस लीग भी जीती। चैम्पियंस लीग में आईपीएल की टॉप की टीमों समेत दुनिया भर की शीर्ष टी-20 टीमें हिस्सा लेती थीं। बीसीसीआई ने 2009 से 2014 तक इस टूर्नामेंट का आयोजन कराया। उसके बाद इसे बंद कर दिया गया।

चेन्नई सुपर किंग्स ने 2010 में दक्षिण अफ्रीका की वॉरियर्स को 8 विकेट हराकर चैम्पियंस लीग पर अपना कब्जा जमाया था। इसके बाद 2014 में भी चेन्नई ने चैम्पियंस लीग का खिताब अपने नाम किया था।

एक समीकरण यह भी
आईपीएल 2010 में चेन्नई सुपर किंग्स तीसरी बार हिस्सा ले रही थी। वहीं, 2 साल के प्रतिबंध से वापसी करने के बाद आईपीएल 2020 भी चेन्नई का तीसरा संस्करण होगा। ऐसे में सीएसके के फैंस यही उम्मीद करेंगे कि चेन्नई 10 साल पहले का इतिहास दोहराए और इस बार भी खिताब अपने नाम करे।



Source link

Be the first to comment

Leave a Reply