Apple, Google, Microsoft topmost valuable brands in Forbes list | एपल दुनिया का मोस्ट वैल्यूएबल ब्रांड; 18 लाख करोड़ रुपए की वैल्यूएशन, टॉप-100 में कोई भारतीय नहीं


नई दिल्ली4 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

फोर्ब्स लिस्ट में 72 फीसदी की तेजी से साथ नेटफ्लिक्स टॉप गेनर कंपनी रही है।

  • टॉप-5 वैल्यूएबल ब्रांड में दिग्गज टेक कंपनियां, सभी अमेरिका से
  • एक साल में 21 फीसदी कम हुई फेसबुक की वैल्यूएशन

फोर्ब्स ने वित्त वर्ष 2019 के दुनिया के टॉप-100 मोस्ट वैल्यूएबल ब्रांड्स की लिस्ट जारी कर दी है। इस लिस्ट के मुताबिक, एपल 241.2 बिलियन डॉलर (करीब 18 लाख करोड़ रुपए) की वैल्यूएशन के साथ दुनिया का टॉप मोस्ट वैल्यूएबल ब्रांड बना है। बीते एक साल में एपल के वैल्यूएशन में 17 फीसदी की बढ़त रही है।

24% की बढ़ोतरी के साथ गूगल दूसरे नंबर पर

फोर्ब्स टॉप-100 मोस्ट वैल्यूएबल ब्रांड्स में गूगल दूसरे नंबर पर रही है। फोर्ब्स ने गूगल की वैल्यूएशन 207.5 बिलियन डॉलर (15 लाख करोड़ रुपए) आंकी है। बीते एक साल में गूगल के वैल्यूएशन में 24 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है। वहीं, माइक्रोसॉफ्ट 163 बिलियन डॉलर (12 लाख करोड़ रुपए) की वैल्यूएशन के साथ तीसरा वैल्यूएबल ब्रांड रहा है। माइक्रोसॉफ्ट के वैल्यूएशन में 30 फीसदी की बढ़ोतरी रही है। टॉप-100 मोस्ट वैल्यूएबल ब्रांड्स की वैल्यू 2.54 ट्रिलियन डॉलर आंकी गई है। पिछले साल यह वैल्यूएशन 2.33 ट्रिलियन डॉलर रही थी।

टॉप-100 में 50 से ज्यादा अमेरिकी कंपनी

टॉप-100 मोस्ट वैल्यूएबल ब्रांड्स में 50 से ज्यादा अमेरिकी कंपनी शामिल हैं। टॉप-5 वैल्यूएबल ब्रांड्स की बात की जाए तो यह सभी दिग्गज टेक कंपनियां हैं। इसमें एपल, गूगल, माइक्रोसॉफ्ट, अमेजन और फेसबुक शामिल हैं। इन पांचों कंपनियों की वैल्यूएशन 817.3 बिलियन डॉलर आंकी गई है। दिग्गज सोशल मीडिया कंपनी फेसबुक की वैल्यूएशन में पिछले वित्त वर्ष में 21 फीसदी की गिरावट रही है। इसके बावजूद फेसबुक टॉप-5 वैल्यूएबल ब्रांड में स्थान पाने में कामयाब रही है।

टॉप-100 में 20 कंपनियां टेक सेक्टर से

फोर्ब्स की लिस्ट के मुताबिक, टॉप-100 मोस्ट वैल्यूएबल ब्रांड्स में 20 कंपनियां टेक सेक्टर से जुड़ी हैं। 14 कंपनियों के साथ फाइनेंशियल सर्विसेज सेक्टर दूसरे स्थान पर है। टॉप-100 में ऑटो सेक्टर की 11 और रिटेल सेक्टर की 8 कंपनियां शामिल हैं। इस साल नेटफ्लिक्स (72%), कैनल (42%) और अमेजन (40%) टॉप गेनर ब्रांड रहे हैं। वहीं फेसबुक (21%), वेल्स फार्गो (16%) और मर्सिडीज बैंज (14%) टॉप लूजर ब्रांड रहे हैं।

टॉप-10 वैल्यूएबल ब्रांड

रैंक ब्रांड ब्रांड वैल्यू 1 साल में बदलाव
1 एपल 241.2 17%
2 गूगल 207.5 24%
3 माइक्रोसॉफ्ट 162.9 30%
4 अमेजन 135.4 40%
5 फेसबुक 70.3 -21%
6 कोका-कोला 64.4 9%
7 डिज्नी 61.3 18%
8 सैमसंग 50.5 -5%
9 लुइस विट्टन 47.2 20%
10 मैक्डॉनाल्ड 46.1 5%

नोट: ब्रांड वैल्यू बिलियन डॉलर में है। स्रोत: फोर्ब्स।

टॉप-100 में एक भी भारतीय कंपनी नहीं

फोर्ब्स लिस्ट में टॉप-100 में एक भी भारतीय कंपनी शामिल नहीं है। इस लिस्ट में शामिल 100वीं कंपनी फॉक्सवैगन की वैल्यूएशन 7.9 बिलियन डॉलर (59 हजार करोड़ रुपए) आंकी गई है। यदि इस वैल्यूएशन की तुलना मार्केट कैपिटलाइजेशन से की जाए तो कई भारतीय कंपनियां इससे आगे हैं। बीएसई में लिस्टेड 47 कंपनियों का मार्केट कैप 59 हजार करोड़ रुपए से ज्यादा है। आपको बता दें कि ब्रांड वैल्यूएशन और मार्केट कैप दोनों अलग-अलग होते हैं।

0



Source link

Be the first to comment

Leave a Reply