India’s Tour of Australia 2020| The three outgoing selectors Devang Gandhi, Jatin Paranjape and Sarandeep Singh are likely to stay for the year-end tour of Australia is announced | मौजूदा सिलेक्टर ही अक्टूबर में भारतीय टीम चुनेंगे; कोरोना के कारण 23-25 खिलाड़ी चुने जा सकते हैं, कोच रवि शास्त्री पहले पहुंचेंगे


  • Hindi News
  • Sports
  • Cricket
  • India’s Tour Of Australia 2020| The Three Outgoing Selectors Devang Gandhi, Jatin Paranjape And Sarandeep Singh Are Likely To Stay For The Year end Tour Of Australia Is Announced

17 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

विराट कोहली की अगुआई वाली टीम इंडिया और ऑस्ट्रेलिया के बीच इस साल नवंबर-दिसंबर में चार टेस्ट की सीरीज होगी, जबकि जनवरी में तीन वनडे खेले जाएंगे। -फाइल

  • जतिन परांजपे, देवांग गांधी और सरनदीप सिंह के बतौर सिलेक्टर 4 साल 30 सितंबर को पूरे हो रहे हैं, बीसीसीआई इन्हें एक्सटेंशन दे सकती है
  • क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (सीए) ने टीम इंडिया के दौरे और बिग बैश लीग के लिए बायो-बबल का खाका तैयार किया है, इस पर करीब 160‌ करोड़ रुपए खर्च होंगे

टीम इंडिया के इस साल के आखिर में होने वाले ऑस्ट्रेलिया दौरे के लिए मौजूदा सिलेक्टर ही अक्टूबर के दूसरे या तीसरे हफ्ते में टीम चुनेंगे। सीनियर सिलेक्शन कमेटी में शामिल तीन सिलेक्टर्स का चार साल का कार्यकाल 30 सितंबर को पूरा हो रहा है। इसमें देवांग गांधी, जतिन परांजपे और सरनदीप सिंह शामिल हैं। लेकिन मौजूदा स्थिति में नए सिलेक्टर चुनने की बजाय बीसीसीआई इन्हें एक्सटेंशन दे सकती है।

न्यूज एजेंसी के मुताबिक, मदन लाल की अगुआई वाली तीन मेंबर्स की क्रिकेट एडवाइजरी कमेटी को बोर्ड ने अब तक तीन सिलेक्टर्स के पदों को भरने के लिए इंटरव्यू के लिए नहीं कहा है। बोर्ड से जुड़े सूत्र ने बताया कि यह बात सही है कि सीएसी को बोर्ड ने अभी तक नए सिलेक्टर चुनने के नहीं कहा है।

बीसीसीआई का आईपीएल पर फोकस

फिलहाल, बीसीसीआई का पूरा फोकस आईपीएल पर है। ऐसे में बोर्ड भी यही चाहता है कि इस समय मौजूदा सिलेक्शन कमेटी को ही ऑस्ट्रेलिया दौरे के लिए टीम चुनने की जिम्मेदारी दी जाए।

चीफ सिलेक्टर प्रसाद को भी 6 महीने का एक्सटेंशन मिला था

बोर्ड से जुड़े सूत्र ने आगे बताया कि चीफ सिलेक्टर एमएसके प्रसाद और गगन खोड़ा का कार्यकाल भी सितंबर 2019 में ही खत्म हो गया था। लेकिन बोर्ड ने उन्हें भी इस साल मार्च तक बनाए रखा। ऐसे में अगर देवांग, जतिन और सरनदीप सिंह को एक्सटेंशन दिया जाता है, तो इसमें कोई गलती नहीं।

यह सभी लंबे वक्त से सिलेक्शन कमेटी में हैं और इन्हें बेंच स्ट्रेंथ के बारे में मालूम है। ऐसे में इनका अनुभव बेहतर टीम चुनने में काम आ सकता है। फिर अगले साल होने वाले इंग्लैंड दौरे तक ही इन्हें क्यों न बरकरार रखा जाए।

23-25 खिलाड़ी ऑस्ट्रेलिया दौरे पर जाएंगे
कोरोना संक्रमण को देखते हुए नवंबर-दिसंबर में होने वाले ऑस्ट्रेलिया दौरे पर बीसीसीआई 23-25 खिलाड़ियों को भेज सकती है। पाकिस्तान और वेस्टइंडीज ने हाल ही में इंग्लैंड दौरे पर इतने ही खिलाड़ी भेजे थे। ज्यादा खिलाड़ी होने से नेट पर बॉलिंग के लिए बाहर से गेंदबाजों को बुलाने की जरूरत नहीं पड़ेगी। अगर इंडिया-ए टीम की ओर से खेलने वाले खिलाड़ी टूर पर जाते हैं, तो बायो सिक्योर बबल में 4 दिनों के फर्स्ट क्लास मैच खेले जा सकेंगे।

कोच शास्त्री अक्टूबर के आखिर में ऑस्ट्रेलिया जाएंगे

ऐसी संभावना भी है कि कोच रवि शास्त्री, खिलाड़ी और सपोर्ट स्टाफ के कुछ सदस्य जो आईपीएल का हिस्सा नहीं हैं। वे अक्टूबर के आखिर में ही ऑस्ट्रेलिया पहुंच जाएंगे। बाकी खिलाड़ी आईपीएल खत्म होने के बाद नवंबर में वहां पहुंचेंगे।

बायो सिक्योर बबल पर 160 करोड़ रुपए खर्च होंगे

कोरोना के कारण क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (सीए) ने टीम इंडिया के दौरे और बिग बैश लीग के लिए बायो-बबल का खाका तैयार किया है। इस पर लगभग 160‌ करोड़ रुपए खर्च होंगे। टीम इंडिया को ऑस्ट्रेलिया दौरे पर दिसंबर से 4 टेस्ट और 3 वनडे की सीरीज खेलना है।

दौरे की शुरुआत 3 दिसंबर को ब्रिस्बेन टेस्ट से
भारतीय दौरे की शुरुआत 3 दिसंबर को ब्रिस्बेन टेस्ट से होगी। भारतीय टीम विदेश में अपना पहला डे-नाइट टेस्ट 11 दिसंबर को एडिलेड में खेलेगी। इसके बाद वनडे सीरीज का पहला मैच 12 जनवरी को पर्थ में खेला जाएगा।

0



Source link

Be the first to comment

Leave a Reply