LAC पर कम होगी तल्खी? चीन से 8वें दौर की बातचीत के लिए सेना कर रही तैयारी


वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) पर कायम गतिरोध को दूर करने के लिए सेना चीन से आठवें दौर की बातचीत को लेकर अपनी तैयारियां कर रही हैं। सेना प्रमुख शीर्ष सैन्य अधिकारियों के साथ इस मुद्दे पर विमर्श कर रहे हैं। सेना चाहती है कि इस बार बातचीत निर्णायक हो और तनाव वाले क्षेत्रों से पीछे हटने का रास्ता निकले। बैठक इसी सप्ताह होने की संभावना है।

सेना के सूत्रों ने कहा कि अभी तिथि तय नहीं हुई है, लेकिन इसी सप्ताह बातचीत होगी। पिछले दो बैठकों में सकारात्मक प्रगति हुई है, लेकिन हम चाहते हैं कि इसका असर जमीन पर भी दिखना चाहिए। चीनी सेना को विवाद वाले स्थानों से पीछे हटकर पूर्व की स्थिति बहाल करनी चाहिए।

यह भी पढ़ें- चीन के सामने झुका पाकिस्तान, 10 दिन के भीतर टिकटॉक से हटाया बैन

सैन्य कमांडरों की आठवें दौर की बैठक में उन प्रक्रियाओं को अंतिम रुप दिए जाने की संभावना है जिससे सेनाएं पीछे हटें एवं मई से पूर्व की स्थिति बहाल हो। हालांकि इस मामले में चीन का अडियल रुख चिंता पैदा करने वाला है, लेकिन लंबे समय तक गतिरोध को भारत कायम नहीं रहने देना चाहता है। क्योंकि इसका संदेश भी गलत जा रहा है। इसलिए भारत की कोशिश है कि इस बैठक में पीछे हटने का फॉर्मूला अमल में आ जाए।

यह भी पढ़ें- ट्विटर ने की बड़ी गलती, जम्मू-कश्मीर को बता डाला चीन का हिस्सा, अब तक नहीं मांगी माफी

ITBP के डीजी भारत-चीन सीमा की अंतिम चौकी मिलम पैदल चलकर पहुंचे
आईटीबीपी के डीजी जवानों में नया जोश भरने चीन सीमा पर स्थित अंतिम चौकी मिलम 13 किमी पैदल चलकर पहुंचे। उन्होंने वहां पहुंचकर सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लिया।सोमवार को आईटीबीपी के डीजी एसएस देशवाल जवानों के साथ बुगड़ियार चौकी से सुबह 7 बजे मिलम रवाना हुए। 13 किमी का पैदल सफर करने के बाद चीन सीमा पर स्थित अंतिम चौकी पहुंचकर उन्होंने जवानों में नया जोश भरा।



Source link

Be the first to comment

Leave a Reply