LJP नहीं बनाएगी मोदी की फोटो को अपना सियासी हथियार? चिराग पासवान बोले- तस्वीर की जरूरत नीतीश कुमार को है


बिहार में इस बार एनडीए गठबंधन से अलग होकर चिराग पासवान की पार्टी लोजपा अकेले चुनाव लड़ रही है। इस बार चुनाव में बिहार एनडीए का हिस्सा नहीं होने की वजह से भाजपा और लोजपा में पीएम मोदी की तस्वीर को लेकर तकरार जारी है। बीजेपी हिदायत दे चुकी है कि चिराग पासवान की पार्टी लोजपा अगर पीएम मोदी की तस्वीर का इस्तेमाल करती है तो उसे कार्रवाई के लिए तैयार रहना होगा। मगर अब लोजपा प्रमुख चिराग पासवान ने भी स्पष्ट तौर पर कह दिया है कि उन्हें चुनाव में मोदी की तस्वीर की जरूरत नहीं है। 

चिराग पासवान ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर हमला बोलते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मेरे अभिभावक हैं। वे हमारे दिल में रहते हैं। उनकी तस्वीर को लेकर कई लोग परेशान हैं। प्रधानमंत्री की तस्वीर की जरूरत नीतीश कुमार को है। चिराग पासवान ने बुधवार को पहले चरण के अपने प्रत्याशियों से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से बात की।

इससे पहले बिहार के उप मुख्यमंत्री और भाजपा नेता सुशील कुमार मोदी ने कहा था कि लोजपा एनडीए का हिस्सा नहीं है। बिहार में भाजपा-जदयू गठबंधन के साथ हम और वीआईपी हैं। राज्यों में अलग-अलग गठबंधन हो सकता है। ऐसे में अगर गैर-एनडीए प्रत्याशी प्रधानमंत्री का नाम या उनकी तस्वीर का उपयोग करता है तो ऐसे लोगों के खिलाफ बीजेपी कानूनी कार्रवाई करेगी। इसलिए अब लोजपा के मुद्दे पर किसी को भी भ्रम में नहीं रहना चाहिए।बता दें कि चिराग पासवान की पार्टी लोजपा बिहार में अकेले चुनाव लड़ रही है। 

हालांकि, लोजपा प्रवक्ता संजय सिंह ने 8 अक्टूबर को कहा था कि प्रधानमंत्री पर किसी एक दल का हक नहीं है। हम उनकी तस्वीर और और उनके कामों को लेकर जनता के बीच जाएंगे। प्रवक्ता ने कहा था कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर किसी दल एक दल का हक नहीं है। चुनाव आयोग के समक्ष अगर कोई शिकायत करता है तो और आयोग का जो निर्णय आएगा उस पर अनुपालन होगा। बता दें कि चिराग पासवान ने ऐलान किया था कि लोजपा बिहार में बीजेपी के खिलाफ में अपने उम्मीदवार नहीं उतारेगी, मगर एक दो जगहों पर यह अपवाद भी देखने को मिला। 



Source link

Be the first to comment

Leave a Reply