Mirzapur 2 Six Reason People Should Watch This Web Series Ali Fazal Pankaj Tripathi


‘मिर्जापुर 2’ (Mirzapur 2) को देखने के छह कारण

खास बातें

  • मिर्जापुर 2 के ट्रेलर ने रिलीज होते ही मचाया धमाल
  • मिर्जापुर 2 की छह ऐसी चीजें, जिसने सीरीज को बनाया रोमांचक
  • नए चेहरों के साथ सीरीज में दिखेंगी नई कहानियां

नई दिल्ली:

‘मिर्जापुर 2’ (Mirzapur 2) सीजन को लेकर लोगों में एक्साइटमेंट देखने लायक है. बीते दिन आए ट्रेलर ने सोशल मीडिया पर धमाल मचाकर रख दिया है. ‘मिर्जापुर 2’ के ट्रेलर में गुड्डू पंडित से लेकर मुन्नाई भैया और कालीन भैया जैसे सभी किरदारों का अंदाज देखने लायक है. इस बार मिर्जापुर 2 में कुछ नए चेहरे और किरदार भी देखने को मिलेंगे, जो कहानी को नया मोड़ देंगे. वहीं, इसका ट्रेलर देखने के बाद यह कहा जा सकता है कि सीरीज की कुछ चीजें ऐसी हैं, जिसके कारण लोगों को ‘मिर्जापुर सीजन 2’ जरूर देखना चाहिए. 

यह भी पढ़ें

मुन्ना त्रिपाठी को लगता है कि अब वह अजेय है

कालीन भइया (पंकज त्रिपाठी) के साहबजादे मुन्ना त्रिपाठी (दिव्येंदु शर्मा) ने ‘मिर्जापुर की गद्दी’ पाने के लिए भरपूर कोशिश की. सीजन 2 में वह पहले से भी ज्यादा ताकतवर बनकर उभरा है. यह देखना दिलचस्प होगा कि वह कैसे अपनी चालें चलता है और मिर्जापुर को जीतने के लिए लड़ाई करता है.

गोलू ने किताबें छोड़कर उठा ली है बंदूक 

गोलू पंडित (श्वेता त्रिपाठी) जो पहले एक किताबी कीड़ा और अपने कॉलेज की टॉपर की भूमिका में थी, सीरीज में अब उसे बंदूक चलाते और ज्यादा हिंसक मार्ग अपनाते देखा जा सकता है. मिर्जापुर सीज़न 2 की कहानी में तब दिलचस्प मोड़ आएगा, जब गोलू हिंसा का रास्ता अपनाते हुए मिर्जापुर के सिंहासन की तरफ बढ़ेगी.

गुड्डू भैया का बदला लेने और ताकत हासिल करने की कोशिश

मिर्जापुर की गद्दी पर काबिज होने के लिए गुड्डू भैया और मुन्ना भैया के बीच की लड़ाई दर्शकों को हिला कर रख देगी. यह देखना दिलचस्प होगा कि आखिरकार जीत किसकी होती है. 

मुन्ना के शिकंजे से बाहर आने के लिए डिंपी का संघर्ष 

‘मिर्जापुर’ सीजन 2 के ट्रेलर में हमने देखा कि डिंपी (हर्षिता गौर) सीजन 1 की घटना को याद करती है जब उसका अपहरण कर एक सुनसान जगह पर कैद कर लिया जाता है. बावजूद इसके कि उसका किरदार शो का सबसे कमजोर किरदार है, यह देखना दिलचस्प होगा कि वह कैसे मजबूत बन कर उभरती है. 

क्या ‘कालीन भैया’ मिर्जापुर पर शासन करने के लिए मुन्ना के साथ हाथ मिलायेंगे ?

‘मिर्जापुर’ पर शासन चलाने के कालीन भैया के कुछ तय कानून हैं. लेकिन उनके पुत्र मुन्ना त्रिपाठी के इरादे कुछ और ही हैं. अब, जबकि कालीन भइया ने मुन्ना को अपनी गद्दी संभालने के लिए तैयार रहने की छूट दे दी है, तो यह देखने वाली बात होगी कि किसके नियम चलेंगे? अब यह देखना दिलचस्प होगा कि कालीन भइया मिर्जापुर का शासन चलाने के लिए मुन्ना के साथ हाथ मिलाएंगे या फिर पहले की तरह किसी न किसी को रास्ते से हटना पड़ेगा.

क्या ‘बीना त्रिपाठी’ का गंदा रहस्य कालीन भइया जान पाएंगे 

अभिनेत्री रसिका दुग्गल ने मिर्जापुर सीज़न 1 में बीना त्रिपाठी के अपने नशीले किरदार को निभाने में कोई कसर नहीं छोड़ी थी. कालीन भैया की पत्नी अपने कई नाजायज संबंधों के लिए जानी जाती हैं. बाऊ जी द्वारा पकड़े जाने और उसके बाद जो कुछ हुआ, सभी यह जानना चाहेंगे कि क्या उसका यह रहस्य कालीन भइया को पता चल पाया या नहीं. 



Source link

Be the first to comment

Leave a Reply