Novak Djokovic made history by defeating Milos Raonic 1-6, 6-3, 6-4 to win the Western & Southern Open and complete his second Career Golden Masters | जोकोविच ने कनाडा के राओनिक को हराकर करियर का 80वां टाइटल जीता, नडाल के 35 एटीपी मास्टर्स टूर्नामेंट जीतने के रिकॉर्ड की बराबरी की


  • Hindi News
  • Sports
  • Novak Djokovic Made History By Defeating Milos Raonic 1 6, 6 3, 6 4 To Win The Western & Southern Open And Complete His Second Career Golden Masters

कुछ ही क्षण पहले

  • कॉपी लिंक

नोवाक जोकोविच ने दूसरी बार वेस्टर्न एंड सदर्न ओपन एटीपी मास्टर्स का खिताब जीता है।

  • नोवाक जोकोविच ने फाइनल में कनाडा के मिलोस राओनिक को 1-6, 6-3 और 6-4 से हराया
  • जोकोविच ने इस साल एक भी मैच नहीं हारे हैं, उन्होंने सभी 23 मुकाबले जीते हैं

दुनिया के नंबर-1 टेनिस खिलाड़ी सर्बिया के नोवाक जोकोविच ने वेस्टर्न एंड सदर्न ओपन एटीपी टूर्नामेंट का दूसरी बार खिताब जीत लिया। उन्होंने फाइनल में कनाडा के मिलोस राओनिक को 1-6, 6-3 और 6-4 से हराया। जोकोविच ने इससे पहले 2018 में पहली बार यह टूर्नामेंट जीता था। तब उन्होंने फाइनल में रोजर फेडरर को हराया था। यह उनके करियर का 80वां टाइटल है।

जोकोविच ने कनाडा के इस खिलाड़ी के खिलाफ अपना जीत का रिकॉर्ड बराकरार रखा। दोनों के बीच हुए सभी 11 मैच जोकोविच ने जीते हैं। उन्होंने इस साल सभी 23 मुकाबले जीते हैं। जोकोविच ने इसके साथ ही वर्ल्ड नंबर-2 स्पेन के राफेल नडाल के 35 एटीपी मास्टर्स सीरीज खिताब जीतने के रिकॉर्ड की बराबरी की। जोकोविच इकलौते खिलाड़ी हैं, जिसने सभी एटीपी मास्टर्स-1000 का टाइटल जीता है।

यूएस ओपन से पहले जोकोविच ने खिताब जीता

उन्होंने यूएस ओपन में अपने ओपनिंग मैच से दो दिन पहले यह खिताब जीता। यूएस ओपन में जोकोविच का पहला मैच 107वीं रैंकिंग वाले बोस्निया के दामिर जुमहुर से होगा। सेमीफाइनल से पहले उनका सामना बड़े खिलाड़ियों से नहीं है। उन्हें डेविड गॉफिन से चुनौती मिल सकती है। जोकोविच के पास 18वां ग्रैंड स्लैम जीतने का मौका है।

मेरे लिए यह टूर्नामेंट जीतना आसान नहीं था: जोकोविच

वेस्टर्न एंड सदर्न ओपन का खिताब जीतने के बाद जोकोविच ने कहा कि मेरे लिए यह आसान नहीं था। पिछले तीन-चार दिन बहुत मुश्किलों भरे थे। मेरे लिए मानसिक और भावनात्मक तौर पर स्थिर रहकर खिताब जीतना वाकई चुनौतीपूर्ण रहा।

गर्दन में दर्द की वजह से जोकोविच परेशान थे

उन्होंने कहा कि फिजियोथेरेपी सेशन के कारण ही मैं इस टूर्नामेंट का फाइनल खेल पाया। क्योंकि शुक्रवार को स्पेन के रॉबर्टो बॉतिस्ता एगुट के खिलाफ सेमीफाइनल मुकाबला तीन घंटे से ज्यादा चला। यह वाकई बहुत मुश्किल था। क्योंकि मेरी गर्दन में पहले से ही दर्द था। जोकोविच का ये साल का चौथा एटीपी टूर खिताब है। इससे पहले वे ऑस्ट्रेलियन ओपन, एटीपी कप और दुबई ड्यूटी फ्री टेनिस चैम्पियनशिप जीत चुके हैं।

0



Source link

Be the first to comment

Leave a Reply