Pakistani Actor Ali Zafar Twitter Reaction On Sundar Pichai Support For Racial Equality – नस्लीय समानता के समर्थन में आए सुंदर पिचाई तो पाकिस्तानी एक्टर बोले


पाकिस्तानी एक्टर अली जफर (Ali Zafar) ने सुंदर पिचाई द्वारा नस्लीय समानता का समर्थन करने पर किया ट्वीट

खास बातें

  • नस्लीय समानता के समर्थन में खड़े हुए सुंदर पिचाई
  • पाकिस्तानी एक्टर ने सुंदर पिचाई को लेकर किया ट्वीट
  • अली जफर ने कहा कि उम्मीद करता हूं कि…

नई दिल्ली:

नस्लीय समानता के समर्थन में गूगल के सीईओ सुंदर पिचाई (Sundar Pichai) ने ट्वीट किया है, जिसमें उन्होंने नस्लीय समानता के प्रति अपना समर्थन जाहिर किया है, साथ ही कहा कि जो लोग दुख, क्रोध, उदासी और भय महसूस कर रहे हैं, वे अकेले नहीं है. गूगल के इस कदम पर पाकिस्तानी एक्टर अली जफर (Ali Zafar) ने उनकी सराहना की, साथ ही ट्वीट कर कहा कि अन्य जाति या ऐसे लोगों के लिए भी सहानुभूति की उम्मीद करता हूं, जिनके पास आवाज नहीं है. बता दें कि अमेरिका में जॉर्ज फ्लॉयड (George Floyd) की मौत के बाद से ही लगातार नस्लभेद और अश्वेतों पर पुलिस की ओर से की जाने वाली बर्बरता पर प्रदर्शन हो रहे हैं. 

यह भी पढ़ें

अली जफर (Ali Zafar) का यह ट्वीट खूब वायरल हो रहा है, साथ ही लोग इस,पर जमकर कमेंट भी कर रहे हैं. अली जफर ने अपने ट्वीट में गूगल (Google) द्वारा नस्लीय समानता पर समर्थन जाहिर करने को लेकर लिखा, “दिल को छू लेने वाला. अन्य उत्पीड़ित जाति और ऐसे लोगों के प्रति सहानुभूति की उम्मीद करता हूं, जिनके पास खुद की आवाज नहीं है.” वहीं, सुंदर पिचाई (Sundar Pichai) ने जॉर्ज फ्लॉयड के साथ हुई घटना पर ट्वीट कर लिखा, “यूएस गूगल और यू-ट्यूब के होमपेज पर आज हमने अश्वेत समुदाय के साथ एक जुटता और जॉर्ज फ्लॉयड, ब्रायो टेलर, अहमद अर्बरी और अन्य लोग, जिनके पास आवाज नहीं है, उनकी याद में नस्लीय समानता के लिए अपना समर्थन साझा करते हैं. उनके लिए, जो दुख, गुस्सा और उदासी महसूस कर रहे हैं, वे अकेले नहीं हैं.”

बता दें कि बीते सोमवार को एक रेस्टोरेंट के सिक्योरिटी गार्ड जॉर्ज फ्लॉयड (George Floyd) को जालसाजी से जुड़े एक मामले में पुलिस ने पकड़ा था. घटना का एक वीडियो वायरल हुआ था. वीडियो में साफ दिख रहा है कि जॉर्ज ने गिरफ्तारी के समय किसी तरह का विरोध नहीं किया. पुलिस ने उसके हाथों में हथकड़ी पहनाई और जमीन पर लिटा दिया. जिसके बाद एक पुलिस अधिकारी ने उसकी गर्दन को घुटनों से दबा दिया. जॉर्ज कहता रहा कि वह सांस नहीं ले पा रहा है और कुछ ही देर में वह बेहोश हो गया. अस्पताल में उसे मृत घोषित कर दिया. जॉर्ज की मौत से लोग आक्रोशित हो गए और रंगभेद की बात पर शहर में बवाल शुरू हो गया.





Source link

Be the first to comment

Leave a Reply