RJD के वादे पर नीतीश का तंज, बोले- नौकरियों के नाम पर अपना धंधा न चालू कर लें


आरजेडी नेता तेजस्वी यादव के 10 लाख नौकरियां देने के वादे पर तंज करते हुए बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सोमवार को कहा कि कुछ लोग बिना समझे ही नौकरियां देने का वादा कर रहे हैं, लेकिन कहीं ऐसा न हो कि इसके नाम पर ये अपना अलग धंधा ही चालू कर दें। नीतीश कुमार ने गया के शेरघाटी और अतरी, औरंगाबाद के रफीगंज तथा जहानाबाद के घोसी में चुनावी रैलियों को संबोधित करते हुए ये बातें कही।

कुमार ने कहा, ”कुछ लोगों को कुछ ज्ञान नहीं है और दावा कर रहे हैं कि इतनी नौकरियां देंगे। पैसा कहां से आएगा ?”  लोगों को सावधान करते हुए उन्होंने कहा, ”और कहीं ऐसा न हो कि नौकरी देने के नाम पर अपना अलग ही काम धंधा चालू कर लें। कहने से कुछ होता है जी, करने का कुछ अनुभव हो, कुछ समझ हो तब ना।” कुमार ने राजद नेता पर निशाना साधते हुए सवाल किया कि 15 साल में जब मौका मिला था तब कितने लोगों को नौकरियां दी थी ?

उन्होंने कहा कि हमने तो छह लाख से अधिक लोगों को नौकरियां दी और काफी संख्या में लोगों को काम का अवसर दिया । गौरतलब है कि विपक्षी महागठबंधन के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार तेजस्वी यादव ने कहा है कि ”सबसे महत्वपूर्ण विषय बेरोजगारी है। हमारी सरकार बनते ही पहली कैबिनेट में युवाओं को 10 लाख रोजगार देने पर मुहर लगेगी।” तेजस्वी ने कहा कि लाखों लोगों का रोजगार छीन गया है और कारोबारियों का व्यवसाय ठप पड़ गया है, ऐसे में हमने यह संकल्प किया है।

यह भी पढ़ें: BJP ने जारी की लालू राज की डिक्शनरी,क से क्राइम,ख से खतरा और ग से गोली

वहीं, लालू प्रसाद पर निशाना साधते हुए नीतीश कुमार ने कहा कि 15 साल में महिलाओं के लिये क्या किया ? पति जेल में गए पत्नी को बैठा दिया लेकिन महिलाओं के लिए क्या किया ? कुमार ने कहा, ”हमें मौका मिला तो हमने आरक्षण दिया। महिलाएं जनप्रतिनिधि बनीं। राजद की पूर्ववर्ती सरकार के दौरान कानून एवं व्यवस्था की स्थिति का जिक्र करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि पहले बिहार में चल रहे अपहरण उद्योग के चलते काफी व्यापारी और डॉक्टर राज्य छोड़ के भाग गए थे। उन्होंने कहा कि हमारे आते ही सब बदल गया, सबके विकास के लिए कार्य किये गए, सबको सुरक्षा मिली।”

राजद की पूर्ववर्ती सरकार पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि पहले न सड़क थी, न बिजली थी और जंगलराज था । उन्होंने कहा कि आज हर घर में बिजली है, हर गांव तक सड़क है और बिहार में कानून का राज है। कुमार ने कहा, हमने शुरू में ही साफ कर दिया था कि हम अपराध, भ्रष्टाचार और साम्प्रदायिकता को किसी भी कीमत ओर बर्दाश्त नहीं करेंगे।

उन्होंने कहा कि कुछ लोग कहते हैं सिर्फ पहले पांच साल काम किया। अगर हम सिर्फ पहले पांच साल काम करते तो क्या हर गांव तक सड़क और हर घर तक बिजली पहुंच जाती? कुमार ने कहा कि शहर और गांव में बाईपास और नए सड़कों का निर्माण होगा, ऐसी व्यवस्था करेंगे कि अगले 50 साल तक लोग निश्चिन्त रहेंगे। मुख्यमंत्री ने कहा, ”हमने न्याय के साथ विकास, हर इलाके का विकास, समाज के हर तबके का उत्थान की दृष्टि से कार्य किया।.. कभी किसी की उपेक्षा नहीं की। हम तो काम करते हैं, करते रहेंगे।” 

उन्होंने कहा कि हमने तय कर लिया है, अबकी बार मौका दीजियेगा तो हर खेत तक सिंचाई का पानी पहुंचा देंगे। कहीं भी सूखा नहीं रहने देंगे। हर घर बिजली तो पहुंच गयी, अब हर गांव में सोलर लाइट लगाएंगे। कुमार ने कहा, ”हम तो सब लोगों की बात सुनकर उसके हिसाब से काम करते हैं समाज सुधार के लिए, शराबबंदी की, देखिए, शराबबंदी ने कैसे लोगों का जीवन बदला है।”



Source link

Be the first to comment

Leave a Reply