Today History for September 6th/ What Happened Today | India Pakistan War 1965 | Supreme Court repeals Section 377 IPC | Decriminalisation of same sex relations | LGBT rights| LGBTQ Rights in India | 55 साल पहले भारत ने पंजाब के रास्ते पाकिस्तान पर हमला बोला था; 2 साल पहले सुप्रीम कोर्ट ने समलैंगिक रिश्तों को मंजूरी दी


  • Hindi News
  • National
  • Today History For September 6th What Happened Today | India Pakistan War 1965 | Supreme Court Repeals Section 377 IPC | Decriminalisation Of Same Sex Relations | LGBT Rights| LGBTQ Rights In India

एक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक

भारतीय इतिहास में 1965 में पाकिस्तान से हुए युद्ध को उतना महत्व नहीं दिया जाता जितना 1962 के चीन युद्ध या 1971 के पाकिस्तान युद्ध को देते हैं। लेकिन, अहम यह है कि 1965 में आज ही के दिन भारत ने पंजाब के रास्ते पाकिस्तान के लाहौर पर हमला बोला था। भारतीय फौजें पंजाब फ्रंट से लाहौर तक पहुंच गई थीं। सियालकोट, लाहौर के साथ ही कश्मीर के कुछ उपजाऊ हिस्से भी भारत के कब्जे में थे।

संयुक्त राष्ट्र के दखल के बाद 23 सितंबर को सीजफायर की घोषणा हुई। दोनों ही देश दावे करते हैं कि यह युद्ध उन्होंने जीता। पाकिस्तान तो आज भी इस दिन को डिफेंस डे के तौर पर मनाता है। इस खुशी में कि उसने भारत को आगे बढ़ने से रोका। बाद में भारत के तत्कालीन प्रधानमंत्री लालबहादुर शास्त्री ने पाक प्रधानमंत्री अयूब खान के साथ ताशकंद समझौता किया। ताशकंद उस समय सोवियत संघ में था, और आज उज्बेकिस्तान का हिस्सा है। 1965 के युद्ध के बाद ही लालबहादुर शास्त्री ने प्रसिद्ध नारा दिया था- जय जवान, जय किसान।

सुप्रीम कोर्ट में समलैंगिक रिश्तों की जीत

सुप्रीम कोर्ट ने 6 सितंबर 2018 को ऐतिहासिक फैसला सुनाया। उसने 1861 के इंडियन पीनल कोड (आईपीसी) के सेक्शन 377 को रद्द किया था। इस सेक्शन के हिसाब से तो समलैंगिकता एक अपराध थी, जिसे दंडित किया जाना चाहिए। इसे भारत के एलजीबीटी अधिकारों के लिए लड़ने वाले कार्यकर्ताओं की बड़ी जीत बताया जाता है। हालांकि, अब भी एलजीबीटी राइट्स एक्टिविस्ट समलैंगिक शादियों की वैधता को लेकर लड़ रहे हैं।

कोर्ट के फैसले को न केवल समलैंगिक, बल्कि ह्यूमन राइट्स कार्यकर्ता भी महत्वपूर्ण मानते हैं। इस फैसले के बाद पूरे देश में जश्न मनाया गया था।

कोर्ट के फैसले को न केवल समलैंगिक, बल्कि ह्यूमन राइट्स कार्यकर्ता भी महत्वपूर्ण मानते हैं। इस फैसले के बाद पूरे देश में जश्न मनाया गया था।

विक्टोरिया ने पूरा किया दुनिया का चक्कर

1522 में विक्टोरिया दुनिया का पहला ऐसा जहाज बन गया जिसने दुनिया का पूरा चक्कर लगाया हो। यह एक स्पेनिश जहाज था, जिसकी कमांड पुर्तगाली एक्सप्लोरर फर्डीनांड मैगेलन के पास थी। उन्होंने 20 सितंबर 1519 को इंडोनेशिया के लिए सबसे अच्छा रास्ता तलाशने के लिए सफर शुरू किया था। यह खोज 5 जहाजों के साथ शुरू हुई थी, जिसमें विक्टोरिया और 260 क्रू मेंबर शामिल थे। तीन साल बाद 6 सितंबर 1522 को जब यह जहाज दुनिया का पूरा चक्कर लगाकर स्पेन के सेविले में लौटा तब सिर्फ 18 क्रू मेंबर बचे थे। मैगेलन की भी मौत हो चुकी थी।

विक्टोरिया जहाज का रेप्लिका। यह तस्वीर नागोया, जापान में ली गई है।

विक्टोरिया जहाज का रेप्लिका। यह तस्वीर नागोया, जापान में ली गई है।

इतिहास के पन्नों में दर्ज अन्य अहम घटनाएं इस प्रकार हैं-

  • 1716ः पहला लाइट हाउस उत्तरी अमेरिका के बोस्टन में बनाया गया।
  • 1870: अमेरिका में पहली बार किसी महिला ने स्थानीय चुनावों में वोट डाला। हालांकि, राष्ट्रीय चुनावों में वोटिंग का अधिकार महिलाओं को 1920 में मिला था।
  • 1901: अमेरिका के 25वें राष्ट्रपति विलियम मैककिनले को गोली मार दी गई थी। आठ दिन बाद उनकी मौत हो गई थी।
  • 1915ः पहला युद्धक टैंक बनाया गया। इंग्लैंड में बने टैंक के पहले प्रोटोटाइप को “लिटिल विलि’ के नाम से पुकारा गया।
  • 1916: पहला सुपर मार्केट अमेरिका के टेनेसी में खुला।
  • 1937: इल मजूको युद्ध के साथ स्पेन में गृह युद्ध शुरू हुआ।
  • 1958: अमेरिका ने अटलांटिक सागर में परमाणु परीक्षण किया।
  • 1969: अफ्रीकी देश स्वाजीलैंड को ब्रिटेन से आजादी मिली। आज के दिन को इस देश का राष्ट्रीय दिवस घोषित किया गया।
  • 1972: हिंदुस्तानी शास्त्रीय संगीत के दिग्गज उस्ताद अलाउद्दीन खान का निधन हुआ।
  • 1986: इस्तांबुल में यहूदी उपासना गृह में हमले में 23 लाेग मारे गए।
  • 1988: 11 साल की उम्र में थॅामस ग्रेगोरी इंग्लिश चैनल पार करने वाला सबसे कम उम्र के तैराक बने।
  • 1991: रूस के दूसरे सबसे बड़े शहर को कभी सेंट पीटर्सबर्ग, कभी पेत्रोग्राद तो कभी लेनिनग्राद नाम से जाना जाता रहा। इस शहर को अपना पुराना नाम सेंट पीटर्सबर्ग वापस मिला था।
  • 1991: सोवियत संघ ने तीन बाल्कन राष्ट्रों एस्टोनिया, लाट्विया और लिथुआनिया को 50 साल के कम्युनिस्ट शासन से आजाद किया था।
  • 1997: एक हफ्ते तक शोक मनाने के बाद प्रिंसेस डायना को ब्रिटेन ने अंतिम विदाई दी थी।
  • 2007: इजरायल ने ऑपरेशन ऑर्चर्ड चलाते हुए सीरिया के न्यूक्लियर रिएक्टर को उड़ाया था।
  • 2008: अमेरिका और भारत के बीच न्यूक्लियर डील को न्यूक्लियर सप्लायर ग्रुप ने मंजूरी दी थी। इससे अमेरिका को यह अनुमति मिल गई थी कि वह भारत को एनर्जी प्रोग्राम को तेजी देने के लिए न्यूक्लियर टेक्नोलॉजी बेच सके।
  • 2012: बराक ओबामा अमेरिका के राष्ट्रपति पद के लिए डेमोक्रेटिक पार्टी के उम्मीदवार बने।

0



Source link

Be the first to comment

Leave a Reply