Tumbbad Director Anand Gandhi New Project Can Surprised Audience Again


आनंद गांधी (Anand Gandhi)

नई दिल्ली:

बॉलीवुड में कई ऐसे फिल्मकार हैं, जिन्होंने अपने काम से हमेशा दर्शकों को चकित किया है. उनके प्रोजेक्ट्स दर्शकों के बीच छाप छोड़कर निकल जाते हैं. फिल्म इंडस्ट्री  संभवतः ही समकालीन समाज के सबसे प्रभावशाली क्षेत्रों में से एक है, जो हमारी दुनिया में मौजूदा विचारों को दर्शाती है. ऐसे कई  दूरदर्शी निर्माता हुए हैं जिन्होंने विचार के इस बदलाव में साथ दिया है. ऐसा ही एक विशिष्ट व्यक्तित्व क्रांतिकारी फिल्म निर्माता आनंद गांधी (Anand Gandhi) हैं, जिन्होंने हमेशा अपने  कल्पनाशील और विचारशील कंटेंट से न केवल वैश्विक दर्शकों का मनोरंजन किया है, बल्कि उनकी सोच  पर भी महत्वपूर्ण प्रभाव डाला है.

यह भी पढ़ें

सोनू सूद से लड़की ने दिल्ली पुलिस की कोचिंग के लिए मांगी मदद, एक्टर ने यूं दिया जवाब

‘शिप ऑफ थिसस’ जैसी फिल्म दर्शकों के सामने लाते हुए आनंद गांधी (Anand Gandhi) और उनकी टीम ने भारतीय सिनेमा को नए युग के शिखर के रूप में प्रस्तुत किया है. विचार-विमर्श की विभिन्नता और चर्चाओं में छिड़ी संधियों ने फिल्म को प्रभावित किया है. आकर्षक जैविक प्रक्रियाओं और इस मुद्दे पर एक चर्चा कि क्या एक विचारधारा को अपने समर्थकों से स्वतंत्र रूप से रहना चाहिए, थ्योरी से फिल्म ने मीनिंगफुल कंटेंट  की एक नई लहर ला दी है. 15 बड़े अंतरराष्ट्रीय पुरस्कार जीतने से लेकर टोरंटो इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल में प्रीमियर करने से लेकर भारत में अब तक के सबसे लोकप्रिय डॉक्यूमेंट्री फीचर के रूप में पहचान बनाने तक, आनंद गांधी के- ‘एन इनसिग्निफिकेंट मैन ‘ने इतिहास रच दिया है. 

Madhuri Dixit ने ‘तम्मा तम्मा’ सॉन्ग पर डांस से मचाया तहलका, धक-धक गर्ल का Video वायरल

आनंद गांधी (Anand Gandhi) की फिल्म ‘तुम्बाड’ (Tumbbad) ने दर्शकों को आश्चर्यचकित किया था, आश्चर्यजनक और अनुकरणीय स्थानों को सही माहौल के साथ सभी दर्शकों तक पहुंचाया. इसके अलावा अपनी  रचनात्मक एनर्जी और सोच  को ट्रिगर करते हुए आनंद गांधी और उनकी टीम ने भारतीय उपमहाद्वीप में गेमिंग के एक नए युग की शुरुआत की, जिसमें राजनीतिक रणनीति बोर्ड गेम शामिल है, जो शतरंज के बाद भारत का पहला वैश्विक टेबलटॉप एक्सपोर्ट और भारतीय इतिहास का सबसे बड़ा क्राउडफंडिंग अभियान बन गया है. इंडस्ट्री  के प्रमुख सम्मेलन, इंडीकेड  2019 में इसे अत्यधिक प्रतिष्ठित सोशल इम्पैक्ट अवार्ड भी मिला है.

Sara Ali Khan को भिखारी समझ लोगों ने दिए थे पैसे, एक्ट्रेस ने खुद सुनाया किस्सा- देखें थ्रोबैक Video

आनंद गांधी (Anand Gandhi) की आगामी परियोजना जो दर्शकों को चकित करने वाली है, एक ऐसी श्रृंखला है जिसे भारत में पहले कभी नहीं देखा गया – ‘ओके  कंप्यूटर.’ एक साइंस-फिक्शन कॉमेडी है जो दर्शकों को एक दूसरी दुनिया की यात्रा पर ले जाएगी जो एडवांस है और किसी भी स्तर पर पहले कभी अनुभव नहीं किया गया है!

. वैश्विक फिल्म निर्माण के युग में आनंद गांधी की रचनात्मक एनर्जी तबाही लाने वाली है. 



Source link

Be the first to comment

Leave a Reply