Vivek Oberoi brother-in-law Aditya Alva named in FIR in sandalwood Drug Scandal | विवेक ओबेरॉय के साले आदित्य सहित 12 लोगों पर केस; पार्टियों में ड्रग्स के कारोबार का आरोप, कोड वर्ड था ‘हैलो किटी’


एक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक

फोटो में विवेक ओबेरॉय के साथ पत्नी प्रियंका, साला आदित्य और सास नंदिनी अल्वा हैं।

  • सेंट्रल क्राइम ब्यूरो ने बेंगलुरु में 5 लोगों को गिरफ्तार किया था, इसके बाद कर्नाटक फिल्म इंडस्ट्री में ड्रग्स के लेन-देन का खुलासा हुआ
  • इस मामले में 12 लोगों पर एफआईआर दर्ज की गई है, इनमें एक्ट्रेस रागिनी द्विवेदी का नाम मेन ड्रग पैडलर के तौर पर दर्ज किया गया है

सैंडलवुड यानी कन्नड़ फिल्म इंडस्ट्री के ड्रग कनेक्शन का दायरा बढ़ता जा रहा है। सेंट्रल क्राइम ब्रांच ने रविवार को कर्नाटक के एक्स मिनिस्टर रहे जीवराज के बेटे और बॉलीवुड सेलेब विवेक ओबेरॉय के साले आदित्य पर केस दर्ज किया है। आदित्य के अलावा 11 और लोगों पर ड्रग्स मामले में केस दर्ज किया गया है।

पार्टियों में सेलेब्स, इंडस्ट्रियलिस्ट को बुलाया जाता था

इस केस में पहली गिरफ्तारी ट्रांसपोर्ट अधिकारी बीके रविशंकर की हुई थी। रविशंकर एक्ट्रेस रागिनी का करीबी बताया जाता है। उसी से पूछताछ के आधार पर आज 12 लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया गया है। आरोप है कि इन लोगों ने बेंगलुरु में अलग-अलग जगहों पर पार्टियां की थीं और इनमें सेलेब्स, इंडस्ट्रियलिस्ट और टेक इंडस्ट्री से जुड़े लोगों को बुलाया गया था।

पार्टी के दौरान ही पैसे के बदले ड्रग्स की डील की गई थी। आदित्य के बारे में एफआईआर में लिखा गया है कि वो 5 जुलाई को येलहेंका में प्राइवेट होटल में हुई पार्टी में शामिल था।

एफआईआर में एक्ट्रेस रागिनी मेन ड्रग पैडलर

रिपोर्ट्स के मुताबिक, एफआईआर में एक्ट्रेस रागिनी द्विवेदी और उनके पूर्व फ्रैंड शिवप्रकाश का भी नाम है। क्राइम ब्रांच ने इन्हें मुख्य ड्रग पैडलर बताया है। पार्टी ऑर्गेनाइजर विरेन खन्ना, बिजनेसमैन प्रशांत रांका, वैभव जैन, आदित्य अल्वा, अफ्रीकन ड्रग सप्लायर लोम पेपर सांबा, प्रशांत राजु, अश्विन, अभिस्वामी, राहुल टोंसे और विनय के खिलाफ केस दर्ज किया गया है।

जांच के मुताबिक, पैडलर ड्रग्स के कारोबार के लिए कोड वर्ड का इस्तेमाल करते थे। ज्यादा नशे वाली ड्रग्स के लिए हैलो किटी कोड वर्ड का इस्तेमाल किया जाता था। दिलचस्प बात ये है कि आरटीओ में कर्मचारी रहे रविशंकर का नाम एफआईआर में नहीं है। रविशंकर ने बताया का अफ्रीकन ड्रग सप्लायर सांबा ने शहर के कई इलाकों में हुई पार्टियों में ड्रग्स सप्लाई की थी।

0



Source link

Be the first to comment

Leave a Reply